HomeShare MarketNDTV के अधिग्रहण पर बोले गौतम अडानी- खरीदना हमारी जिम्मेदारी

NDTV के अधिग्रहण पर बोले गौतम अडानी- खरीदना हमारी जिम्मेदारी

ऐप पर पढ़ें

मीडिया हाउस NDTV के अधिग्रहण की प्रक्रिया में जुटे गौतम अडानी ने इस डील पर पहली बार प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा कि एनडीटीवी का अधिग्रहण कॉमर्शियल अवसर नहीं बल्कि एक ‘जिम्मेदारी’ है। इसके साथ ही अडानी ने मीडिया की फ्रीडम पर भी बयान दिया है।

तारीफ की भी हो हिम्मत: उन्होंने कहा-मीडिया की स्वतंत्रता का मतलब है कि अगर सरकार ने कुछ गलत किया है, तो आप कहते हैं कि यह गलत है। लेकिन साथ ही सरकार के अच्छे काम को कहने की हिम्मत रखनी चाहिए। इसके साथ ही गौतम अडानी ने केंद्र में भाजपा सरकार से लाभान्वित होने के देश में राजनीतिक विपक्ष के सभी आरोपों का खंडन किया। 

गौतम अडानी ने कहा कि उन्होंने एनडीटीवी के मालिक-संस्थापक प्रणय रॉय को अध्यक्ष बने रहने के लिए कहा है। मीडिया को दिए एक इंटरव्यू में अडानी ने बताया कि NDTV का अधिग्रहण पूरा करने के बाद उन्होंने रॉय से NDTV का नेतृत्व जारी रखने के लिए कहा था।

बता दें कि इस साल अगस्त में अडानी एंटरप्राइजेज लिमिटेड की सहायक कंपनी एएमजी मीडिया नेटवर्क्स लिमिटेड ने विश्वप्रधान कमर्शियल प्राइवेट लिमिटेड (वीसीपीएल) को खरीदा। इस कंपनी ने 2009 और 2010 में एनडीटीवी प्रमोटर बिजनेस आरआरपीआर होल्डिंग प्राइवेट लिमिटेड को 403.85 करोड़ रुपये उधार दिए थे। 

आरआरपीआर होल्डिंग के मालिक अडानी ग्रुप ने इस तरह एनडीटीवी में 29.18 फीसदी हिस्सेदारी हासिल की। इसके अलावा कंपनी ओपन ऑफर के तहत 26 फीसदी से ज्यादा हिस्सेदारी हासिल करेगी। इसके बाद एनडीटीवी में अडानी समूह की 50 फीसदी से ज्यादा हिस्सेदारी हो जाएगी।

RELATED ARTICLES

Most Popular