HomeShare MarketLIC के शेयरों से होगी तगड़ी कमाई या फिर नुकसान? एक्सपर्ट कर...

LIC के शेयरों से होगी तगड़ी कमाई या फिर नुकसान? एक्सपर्ट कर रहे हैं इस ओर इशारा 

LIC IPO Listing Updates: भारतीय जीवन बीमा निगम (LIC) आज दलाल स्ट्रीट पर अपना डेब्यू कर करने जा रहा है। BSE की वेबसाइट पर दी जानकारी के अनुसार एलआईसी की लिस्टिंग आज होने जा रही है। अब सवाल है कि एलआईसी डिस्काउंट पर लिस्ट होगी या फिर पहले दिन ही निवेशकों को मुनाफा होगा। आइए जानते हैं क्या है इस पर एक्सपर्ट की राय और ग्रे मार्केट से मिल रहे संकेत किस ओर इशारा कर रहे हैं- 

यह भी पढ़ें: आज लिस्ट होंगे एलआईसी के शेयर, इतने रुपये पर होगी लिस्टिंग, जानें लेटेस्ट अपडेट

LIC की लिस्टिंग को लेकर क्या है एक्सपर्ट की राय? 

शेयर बाजार पर नजर रखने वाले विश्लेषकों के अनुसार एलआईसी की लिस्टिंग प्राइस एक हजार रुपये से कम रहने वाली है। अगर कंपनी के शेयर डिस्काउंट पर लिस्ट हुए तो शेयर की कीमत 910 रुपये से 920 रुपये की बीच रहेगी। वहीं, अगर प्रीमियम पर लिस्ट हुए तो शेयर की कीमत 970 रुपये से 980 रुपये के बीच रह सकती है। 

GCL सिक्योरिटीज के रवि सिंघल LIC लिस्टिंग प्राइस को लेकर कहते हैं, ‘LIC के शेयर आज चार डिजिट के नीचे शुरुआत कर सकते हैं। अगर कंपनी के स्टाॅक का रुख सकारात्मक रहा तो शेयर के भाव 3 से 4% के प्रीमियम और नकारात्मक रहने पर 5% के डिस्काउंट पर लिस्ट हो सकते हैं। ऐसे में उम्मीद है कि कंपनी के शेयर का भाव 910 रुपये से 980 रुपये के बीच रह सकता है।’

संबंधित खबरें

स्वास्तिक इंवेस्टमेंट लिमिटेड के सीनियर एनालिस्ट आयुष अग्रवाल कहते हैं, ‘बाजार की मौजूदा स्थितियों को देखते हुए फ्लैट लिस्टिंग की उम्मीद है। बढ़ती मंहगाई, रुपये का कमजोर होना, वैश्विक स्तर पर बढ़ती चिंताओं की वजह से दुनिया भर के स्टाॅक मार्केट बिकवाली का शिकार हो रहे हैं।’ स्वास्तिक इंवेस्टमेंट के आयुष आगे कहते हैं कि भारत में इंश्योरेंस का मतलब ही एलआईसी समझा जाता है। ब्रांड वैल्यू और ऐजेंट के मजबूत नेटवर्क आकर्षित कर रहे हैं। लेकिन इंश्योरेंस सेक्टर में कंपनी की कम होती हिस्सेदारी चिंता का विषय है। 

वहीं, घरेलू ब्रोकरेज फर्म आनंद राठी से जुड़े नरेंद्र सोलंकी के अनुसार, ‘अगर मंगलवार को कंपनी शेयर की लिस्टिंग फ्लैट रहती है तब भी रिटेल निवेशक मुनाफा कमा लेंगे। उसकी वजह है कि डिस्काउंट जो उन्हें आईपीओ पर मिला था। 

GMP क्यों है निगेटिव? 

Mehta Equities के प्रशांत तपसे कहते हैं, ‘वैश्विक स्थिति की वजह से ग्रे मार्केट में स्टाॅक मार्केट में कमजोर दिखाई दे रही है। हम उम्मीद कर रहे हैं कि पांच प्रतिशत ज्यादा या फिर पांच प्रतिशत कम के आस-पास शेयर बाजार में कंपनी की लिस्टिंग होगी।’

RELATED ARTICLES

Most Popular