HomeShare MarketHDFC बैंक ने बढ़ाया लेंडिंग रेट्स, पहले से बढ़ जाएगी आपके लोन...

HDFC बैंक ने बढ़ाया लेंडिंग रेट्स, पहले से बढ़ जाएगी आपके लोन की EMI

एचडीएफसी बैेंक (HDFC) बैंक ने अपनी फंड बेस्ड लेंडिंग रेट (MCLR) में 5 से 10 बेसिस प्वाइंट की बढ़ोतरी की है। एमसीएलआर (MCLR) रेट्स में बढ़ोतरी की वजह से अब नए और पुराने लोन की दरें बढ़ जाएंगी और होम लोन, कार लोन सहित कई अन्य लोन की EMIs महंगी हो जाएंगी। HDFC ने 1 साल के एमसीआलआर (MCLR) के लिए 8.1 प्रतिशत की बढ़ोतरी की है जबकि ओवरनाइट एमसीएलआर (MCLR) रेट में 7.8 प्रतिशत की वृद्धि की है। वहीं बैंक ने 1 महीने, 2 महीने और 3 महीने के एमसीएलआर (MCLR) लिए क्रमशः 7.80 प्रतिशत, 7.85 प्रतिशत और 7.95 प्रतिशत की बढ़ोतरी की है।

रेपो रेट में बढ़ोतरी के कारण कई बैंकों ने बढ़ाया एमसीएलआर (MCLR) रेट्स 
एमसीएलआर (MCLR) रेट में बढ़ोतरी का मुख्य कारण पिछले सप्ताह आरबीआई की मॉनेटरी पॉलिसी की मीटिंग में रेपो रेट को 50 बेसिस प्वाइंट बढ़ाने का निर्णय था। आरबीआई ने महंगाई को काबू करने के लिए रेपो रेट में 50 बेसिस प्वाइंट की बढ़ोतरी की जो अब 5.40 प्रतिशत हो गई है। इस महीने की शुरुआत में आईसीआईसीआई बैंक (ICICI) ने सभी टेन्योर के लिए एमसीएलआर (MCLR) रेट में बढ़ोतरी की है। इंडियन बैंक (Indian bank) ने भी अपने एमसीएलआर (MCLR) रेट में बढ़ोतरी की है जो 3 अगस्त से लागू है।

एसबीआई (SBI) ने भी एमसीएलआर (MCLR) रेट में की बढ़ोतरी 
रविवार को कैनरा बैेंक (canara) ने भी अपने  एमसीएलआर (MCLR) रेट में 50 बेसिस प्वाइंट की बढ़ोतरी की है। वहीं भारत की सबसे बड़ी ऋणदाता बैंक एसबीआई (SBI) ने भी अपने एमसीएलआर (MCLR) रेट को बढ़ा दिया है। एसबीआई (SBI) ने अपने एमसीएलआर (MCLR) रेट में 10 बेसिस प्वाइंट की बढ़ोतरी की है जो 15 जुलाई से लागू है।

RELATED ARTICLES

Most Popular