HomeShare Market52 हफ्ते के हाई से फिसले अडानी ग्रुप के ये 4 स्टॉक्स

52 हफ्ते के हाई से फिसले अडानी ग्रुप के ये 4 स्टॉक्स

पिछले कई दिनों से अडानी ग्रुप की कंपनियों के शेयर अपने निवेशकों को मालामाल कर रहे हैं। मंगलवार को अडानी ग्रीन एक साल के उच्च स्तर 2955 को छुआ तो तो अडानी इंटरप्राइजेज भी 52 हफ्ते के हाई 2219 के स्तर पर पहुंच गया। अडानी ट्रांसमिशन भी कुछ ऐसा ही कमाल करते हुए 3000 के स्तर पर पहुंच गया और अडानी टोटल गैस भी उड़ान भरते हुए 2740 के उच्च स्तर को छू लिया, लेकिन मुनाफा वसूली के चलते ये सभी स्टॉक अपने 52 हफ्ते के उच्च शिखर से लुढ़कर बंद हुए।

अडानी ग्रीन एक महीने में 1,832.00 रुपये से 2800 रुपये पर पहुंचा

अडानी ग्रीन एनर्जी लिमिटेड मंगलवार को इंट्राडे में 2725.50 रुपये से 2955 रुपये पर पहुंच गया और बाद में 2800 रुपये पर बंद हुआ। एनएसई पर दिए गए आंकड़ों के मुताबिक अडानी ग्रीन एक महीने में 1,832.00 रुपये से 2800 रुपये पर पहुंचा है। यानी हर शेयर पर करीब इसने 1000 रुपये का मुनाफा दिया है।

संबंधित खबरें

साल भर पहले अडानी ग्रीन के एक शेयर का मूल्य 1051.05 रुपये था

वहीं अगर बात करें अडानी इंट. की तो इस स्टॉक ने मंगलवार को इंट्राडे में 18.30 रुपये प्रति शेयर की उछाल के साथ 52 हफ्ते के उच्च् शिखर 2219 रुपये पर पहुंच गया। बाद में यह भी फिसलकर 2198.50 रुपये पर बंद हुआ। एक साल पहले 13 अप्रैल को अडानी ग्रीन के एक शेयर का मूल्य 1051.05 रुपये था। यानी एक साल में इसका भाव दोगुना से अधिक हो गया है।

गौतम अडानी टॉप-10 अमीरों में अकेले भारतीय, गूगल के सहसंस्थापक लैरी पेज से भी आगे निकले

3 साल में 1110 फीसद का रिटर्न

3 साल में 1110 फीसद का रिटर्न देने वाले अडानी ट्रांसमिशन का हाल भी ग्रुप के दूसरे शेयरों जैसा ही रहा। अडानी ट्रांसमिशन मंगलवार को 52 हफ्ते के उच्च शिखर 3000 रुपये पर पहुंचने के बाद 2.41 फीसद नुकसान के साथ 2689.95 रुपये पर बंद हुआ। इंट्रा डे में यह 2600 से 3000 के बीच कारोबार किया। एक साल पहले इसकी कीमत महज 860.10 रुपये थी।

अडानी टोटल गैस भी मुनाफा वसूली का शिकार

इसी तरह अडानी टोटल गैस भी मुनाफा वसूली का शिकार हुआ। मंगलवार को इस स्टॉक ने भी 52 हफ्ते के उच्च शिखर 2740 रुपये को छूकर फिसल गया और 2514 रुपये पर बंद हुआ। मंगलवार को अडानी गैस ने 5.67 फीसद की गिरावट दर्ज की। एक साल पहले इसकी कीमत 774.95 रुपये प्रति शेयर थी।

RELATED ARTICLES

Most Popular