HomeShare Market18 मई से ग्रेटर नोएडा में होगा 'सात्ते 2022' का आयोजन, टूरिज्म...

18 मई से ग्रेटर नोएडा में होगा ‘सात्ते 2022’ का आयोजन, टूरिज्म इंडस्ट्री को बढ़ावा देना है मकसद  

SATTE 2022: भारत के अग्रणी बी2बी प्रदर्शनी आयोजक इंफॉर्मा मार्केट्स भारत में 18 से 20 मई तक दक्षिण एशिया के प्रमुख टूर एंड ट्रेवल एग्जीबिशन सात्ते 2022 (South Asia Leading Tour Travel Expo. 2022) का आयोजन किया जाएगा। यह आयोजन इंडिया एक्सपो मार्ट, ग्रेटर नोएडा, दिल्ली-एनसीआर में आयोजित होगी। सात्ते के 29वें संस्करण का उद्देश्य इस उद्योग के 36,000 से अधिक योग्य हितधारकों, खरीदारों और व्यापार यात्रियों, विवाह आयोजकों, कॉर्पोरेट यात्रा, हाॅस्पिटैलिटी इंडस्ट्रीज के साथ-साथ प्रमुख टेलीविजन और फिल्म निर्माण करने वाली संस्थाओं के लिए एक उपयुक्त व्यावसायिक अवसर प्रदान करना है।  
 जानिए क्या है कारोबार?  
यह आयोजन इंटरएक्टिव सेशंस के साथ उद्योग के विचारकों और स्टेक होल्डर्स के बीच संवाद के मध्यम से विचारों के व्यापक और वास्तविक आदान-प्रदान को बढ़ावा देगा। सात्ते विविध पर्यटन क्षेत्रों से जुड़े लोगों के लिए आर्थिक विकास के अवसरों के लिए वन-स्टॉप प्लेटफॉर्म के रूप में कार्य करता है। ट्रैवल एजेंट्स, टूर ऑपरेटर्स, नेशनल/इंटरनेशनल टूरिज्म बोर्ड, स्टेट टूरिज्म डिपार्टमेंट्स, होटल्स एंड रिसॉर्ट्स, ट्रैवल टेक्नोलॉजी कंपनियों, स्पा और वेलनेस सेंटर जैसे व्यापक पृष्ठभूमि से आने वाले 1000 से अधिक प्रदर्शकों के साथ वन-टू-वन फ्लोर इंटरेक्शन भी आयोजित किया जाएगा। यह आयोजन, उद्योग के विभिन्न वर्गों के प्रसिद्ध और स्थापित वक्ताओं को उद्योग की वर्तमान स्थिति के बारे में अपने विचार व्यक्त करने और इस क्षेत्र के भविष्य को पुनर्जीवित करने और फिर से आकार देने के लिए उठाए जा सकने वाले कदमों में एकरूपता लाएगा। इस वर्ष के संस्करण के लिए उपस्थित लोगों में 1000 से अधिक प्रदर्शकों, 20 से अधिक राज्य पर्यटन बोर्डों, 20 से अधिक अंतर्राष्ट्रीय स्थलों, 300 से अधिक अंतरराष्ट्रीय प्रतिभागी इस बहुउद्देशीय सम्मेलन में अपने ज्ञान को साझा करने जा रहे हैं।

यह भी पढ़ें- 23 पैसे का शेयर हुआ 9 रुपये का, सालभर में निवेशकों के 1 लाख बन गए 40 लाख रुपये
 अंतर्राष्ट्रीय यात्रा उद्योग पर होगा फोकस
चूंकि यात्रा क्षेत्र अंतरराष्ट्रीय उड़ानों के खुलने के साथ गति प्राप्त कर रहा है, ऐसे में सात्ते राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय यात्रा उद्योग के पुनरुद्धार पर चर्चा और संवाद का एक प्रमुख केंद्र होगा, इसके साथ ही उद्योग के विकास में तेजी लाने के लिए समाधान-संचालित नवाचारों को भी आगे लायेगा। इंफॉर्मा मार्केट्स के प्रबंध निदेशक, योगेश मुद्रास ने कहा, “सात्ते, हाल के रुझानों और यात्रा उद्योग की जानकारी के बारे में संपूर्ण और समृद्ध बातचीत करने का एक आकर्षक अवसर है। दुनिया भर में यात्रा क्षेत्र कोरोना वायरस के कारण कठिन दौर से गुजरा है जैसा कि अब यह तेजी से खुल रहा है और भारत में 2029 के अंत तक उद्योग में 53 मिलियन नौकरियों में वृद्धि का अनुमान है और 2027 तक 125 बिलियन डॉलर तक बढ़ने का अनुमान है।“
सात्ते को पर्यटन मंत्रालय, भारत सरकार, राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय पर्यटन बोर्ड, भारतीय और अंतर्राष्ट्रीय यात्रा और व्यापार संघों और अन्य संगठनों से अपार समर्थन मिला है। भारतीय राज्यों जैसे उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र, गुजरात, केरल, उत्तराखंड, राजस्थान, तमिलनाडु, कर्नाटक, गोवा, मध्य प्रदेश और अन्य ने इस कार्यक्रम में उपस्थिति के लिए सकारात्मक रूप से सहमति व्यक्त की है। सऊदी अरब, श्रीलंका, नेपाल, मालदीव, मॉरीशस पर्यटन प्राधिकरण, सिंगापुर, थाईलैंड, इंडोनेशिया, अजरबैजान, इज़राइल, तुर्की, दक्षिण अफ्रीका, मलेशिया, न्यूजीलैंड, दक्षिण कोरिया, यूटा, कजाकिस्तान, विजिट ब्रसेल्स, मियामी, जिम्बाब्वे, लॉस एंजिल्स जैसे कई अन्य इसमें भाग ले रहे हैं। इस आयोजन को निजी कंपनियों से भी शानदार प्रतिक्रिया मिल रही है।

संबंधित खबरें

यह भी पढ़ें- अडानी ग्रुप ने खरीद ली इस मीडिया कंपनी में 49% हिस्सेदारी, खबर आते ही शेयर खरीदने की मची होड़
 नए डील्स की हो सकती हैं घोषणाएं
नई व्यावसायिक साझेदारियों और घोषणाओं का निर्माण तीन दिवसीय एक्सपो का मुख्य आधार होगा। सात्ते 2022 उद्योग जगत को पर्यटन उद्योग द्वारा असीमित अवसरों के बारे में बताने के लिए सम्मेलनों की एक श्रृंखला को बनाएगा। कॉन्फ्रेंस में शामिल विषय हैं जैसे इंडिया टूरिज्म: द रोड अहेड!; सिनेमा और पर्यटन: गंतव्य की छवि को बढ़ाना; आउटबाउंड पर्यटन: पुनर्जागृत, पुनर्निर्माण, पुनः रणनीति बनाना; आयुर्वेद और कल्याण पर्यटन: भारत पर्यटन के लिए बड़ा अवसर; एमआईसीई और यात्रा प्रौद्योगिकी पर आईसीपीबी सम्मेलन: भविष्य को परिपूर्ण बनाना।
 
 

RELATED ARTICLES

Most Popular