HomeShare Marketसाल का पहला IPO हर दिन बढ़ा रहा निवेशकों की टेंशन, अब...

साल का पहला IPO हर दिन बढ़ा रहा निवेशकों की टेंशन, अब तक हो चुका इतना नुकसान

जनवरी में साल 2022 का पहला आईपीओ लॉन्च हुआ था। इस आईपीओ का नाम एजीएस ट्रांजैक्ट टेक्नोलॉजीज (AGS Transact Technologies) था। इस आईपीओ में जिन निवेशकों ने भी दांव लगाया, और मुनाफे के लिए इंतजार में रह गए वो अब नुकसान झेल रहे हैं।   

दरअसल, 31 जनवरी को कंपनी की शेयर बाजार में लिस्टिंग हुई तो निवेशकों को तगड़ा झटका लगा। इस दिन एजीएस ट्रांजैक्ट टेक्नोलॉजीज अपने इश्यू प्राइस से भी नीचे लिस्ट हुई थी। हालांकि, सुधार भी हुआ और लिस्टिंग के दिन कंपनी 181.85 रुपए तक के स्तर पर गई थी, जो अब तक का उच्चतम स्तर है।

इसके बाद जो गिरावट का सिलसिला जारी हुआ, बदस्तूर अब तक जारी है। करीब ढाई माह बाद भी एजीएस ट्रांजैक्ट का शेयर भाव अपने इश्यू प्राइस से नीचे ही चल रहा है।

संबंधित खबरें

क्या था इश्यू प्राइस: एजीएस ट्रांजैक्ट टेक्नोलॉजीज का इश्यू प्राइस 166-175 रुपए था। अब शेयर का भाव लुढ़क कर 105 रुपए के स्तर पर आ गया है, जो अपर इश्यू प्राइस से 70 रुपए नुकसान में है। 24 फरवरी के दिन शेयर का भाव 95 रुपए पर था, जो अब तक का सबसे निचला स्तर है। मार्केट कैपिटल की बात करें तो 1,270 करोड़ रुपए है।

आपको बता दें कि एजीएस ट्रांजैक्ट बैंकों और कॉरपोरेट क्लाइंट्स को डिजिटल और कैश बेस्ड सॉल्यूशंस उपलब्ध कराती है। कंपनी के प्रमोटर रवि बी गोयल और विनेहा एंटरप्राइजेज हैं। इनकी कंपनी में 97.61 प्रतिशत हिस्सेदारी है। इसके अलावा AGSTTL कर्मचारी कल्याण ट्रस्ट की हिस्सेदारी है।

कंपनी कस्टमाइज्ड प्रोडक्ट्स और ATM, CRM आउटसोर्सिंग, कैश मैनेजमेंट, डिजिटल पेमेंट सॉल्यूशंस जैसी सर्विसेज उपलब्ध कराती है। 

RELATED ARTICLES

Most Popular