HomeShare Marketसस्ते कर्ज के बीते दिन, एसबीआई, बीओबी समेत इन बैंकों के ग्राहकों...

सस्ते कर्ज के बीते दिन, एसबीआई, बीओबी समेत इन बैंकों के ग्राहकों की बढ़ेगी EMI

भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई), बैंक ऑफ बड़ौदा, एक्सिस बैंक और कोटक महिंद्रा बैंक सहित प्रमुख बैकों ने अपनी प्रमुख ऋण दरों में 0.1 फीसद तक की वृद्धि की है। इसके साथ ही आवास, कार और व्यक्तिगत ऋण की मासिक किस्त (ईएमआई) बढ़ेगी।

इन बैंकों ने करीब तीन साल बाद बेंचमार्क ऋण दरों में बढ़ोतरी की है। माना जा रहा है कि और बैंक भी इसी तरह का कदम उठा सकते हैं। देश के सबसे बड़े बैंक एसबीआई ने सीमांत लागत आधारित ऋण दर (एमसीएलआर) में 0.1 फीसद की बढ़ोतरी की है। बैंक ने एक साल की अवधि के लिए ऋण दर को सात फीसद से बढ़ाकर 7.10 फीसद कर दिया है।

एसबीआई की दरें 15 अप्रैल से ही प्रभावी

संबंधित खबरें

एसबीआई की वेबसाइट पर दी जानकारी के अनुसार, संशोधित एमसीएलआर दर 15 अप्रैल से प्रभावी है। एक दिन, एक महीने और तीन महीने की एमसीएलआर 0.10 फीसद बढ़कर 6.75 फीसदी हो गई, जबकि छह महीने की एमसीएलआर बढ़कर 7.05 फीसदी हो गई। ज्यादातर कर्ज एक साल की एमसीएलआर दर से जुड़े होते हैं। इसी तरह दो साल की एमसीएलआर 0.1 फीसद बढ़कर 7.30 फीसद और तीन साल की एमसीएलआर 0.1 फीसद बढ़कर 7.40 फीसद हो गई।

बैंक ऑफ बड़ौदा की नई दरें 12 अप्रैल से प्रभावी

बैंक ऑफ बड़ौदा (बीओबी), एक्सिस बैंक और कोटक महिंद्रा बैंक ने भी प्रधान एक-वर्षीय एमसीएलआर में वृद्धि की है। बीओबी ने एक साल की अवधि के लिए एमसीएलआर को बढ़ाकर 7.35 फीसद कर दिया है, जो 12 अप्रैल से प्रभावी है।

 

निजी क्षेत्र के बैंकों ने भी बढ़ाई ब्याज दरें

निजी क्षेत्र के एक्सिस बैंक और कोटक महिंद्रा बैंक ने भी एक साल की अवधि के लिए एमसीएलआर को बढ़ाकर 7.40 फीसद कर दिया है, जो क्रमश: 18 अप्रैल और 16 अप्रैल से प्रभावी है। इस फैसले के बाद जिन लोगों ने एमसीएलआर पर कर्ज लिया है, उनकी ईएमआई थोड़ी बढ़ जाएगी।

बुधवार को राहत: पेट्रोल 91.45 तो डीजल 85.83 रुपये लीटर बिक रहा इस शहर में, आपके यहां क्या है रेट?

हालांकि, जिन लोगों ने अन्य मानकों के आधार पर ऋण लिया है, उनकी ईएमआई पर प्रभाव नहीं पड़ेगा। एसबीआई की ईबीएलआर (वाह्य मानक आधारित उधारी दर) 6.65 फीसद है, जबकि रेपो से जुड़ी कर्ज की दर (आरएलएलआर) 6.25 फीसद है। ये दर एक अप्रैल से प्रभावी है। आवास और वाहन ऋण सहित किसी भी प्रकार का कर्ज देते समय बैंक ईबीएलआर और आरएलएलआर पर ऋण जोखिम प्रीमियम (सीआरपी) को जोड़ते हैं।

RELATED ARTICLES

Most Popular