HomeShare Marketसरकार बेचना चाह रही इस कंपनी में हिस्सेदारी, नहीं मिल रहे खरीदार!...

सरकार बेचना चाह रही इस कंपनी में हिस्सेदारी, नहीं मिल रहे खरीदार! JSW Steel ने कहा- संपत्ति में दिलचस्पी नहीं

Pawan hans privatisation: सरकार हेलीकॉप्टर सेवा देने वाली कंपनी पवन हंस में अपनी 51 फीसदी की समूची हिस्सेदारी बेचना चाह रही है। बाकी 49 फीसदी हिस्सेदारी सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रम तेल एवं प्राकृतिक गैस निगम (ONGC) के पास है और वह भी अपनी पूरी हिस्सेदारी बेचना चाहती है। खबर थी कि पवन हंस की बिक्री के लिए जेएसडब्ल्यू स्टील लिमिटेड और जिंदल स्टील एंड पावर लिमिटेड ने भी दिलचस्पी दिखाई है, लेकिन अब जेएसडब्ल्यू स्टील ने बोली लगाने की खबरों को खारिज कर दिया है। 

इस्पात क्षेत्र की दिग्गज कंपनी जेएसडब्ल्यू स्टील (JSW Steel) ने सार्वजनिक क्षेत्र की हेलीकॉप्टर सेवा प्रदाता पवन हंस लिमिटेड के अधिग्रहण के लिए बोली लगाने की खबरों को सोमवार को खारिज करते हुए कहा कि इस संपत्ति में उसकी कोई दिलचस्पी नहीं है।

यह भी पढ़ें- ₹24,713 करोड़ की डील कैंसिल होने के बाद इस कंपनी के शेयरों को बेचने की लगी होड़, लोअर सर्किट में सभी शेयर

संबंधित खबरें

क्या कहा कंपनी ने?
जेएसडब्ल्यू स्टील ने शेयर बाजारों को दी गई एक सूचना में कहा कि वह पवन हंस के लिए बोली लगाने की प्रक्रिया का हिस्सा नहीं रही है। हाल ही में एक मीडिया रिपोर्ट में सूत्रों के हवाले से कहा गया था कि जेएसडब्ल्यू स्टील ने पवन हंस को खरीदने के लिए बोली लगाई है।
कंपनी ने अपने बयान में कहा, ‘‘यह मीडिया रिपोर्ट निराधार है। लिहाजा हम इससे इनकार करते हैं कि जेएसडब्ल्यू स्टील लिमिटेड ने पवन हंस लिमिटेड के अधिग्रहण के लिए बोली लगाई थी। कंपनी की इस संपत्ति में कोई दिलचस्पी नहीं है।’’

यह भी पढ़ें- राकेश झुनझुनवाला ने इस कंपनी पर लगाया बड़ा दांव, खरीदे 10 लाख शेयर, अभी ₹152 में मिल रहा स्टॉक

सरकार बेचना चाह रही हिस्सेदारी
पिछले साल दिसंबर में सरकार ने कहा था कि पवन हंस के निजीकरण के लिए लेनदेन सलाहकारों को वित्तीय बोलियां मिली हैं। हालांकि, इसने बोली लगाने वाली संस्थाओं के नामों का खुलासा नहीं किया था।
पवन हंस में सरकार की 51 फीसदी हिस्सेदारी है जबकि ऑयल एंड नैचुरल गैस कॉरपोरेशन (ओएनजीसी) के पास शेष 49 प्रतिशत हिस्सेदारी है। ओएनजीसी ने रणनीतिक बिक्री प्रक्रिया में अपना हिस्सा देने का भी फैसला किया है।

RELATED ARTICLES

Most Popular