HomeShare Marketसरकारी कंपनी ने किया डिविडेंड देने का ऐलान, PAT में 62% का...

सरकारी कंपनी ने किया डिविडेंड देने का ऐलान, PAT में 62% का इजाफा

ऐप पर पढ़ें

Coal India Q4 Results 2023: दुनिया की सबसे बड़ी कोयला खनन कंपनी कोल इंडिया लिमिटेड (सीआईएल) का नेट प्रॉफिट बीते वित्त वर्ष की चौथी तिमाही 17.7 प्रतिशत घट गया है। कर्मचारियों के वेतन संशोधन के लिए ऊंचा प्रावधान करने की वजह से कंपनी के मुनाफे में गिरावट आई है। शुक्रवार को कोल इंडिया के एख शेयर की कीमत 0.06 प्रतिशत की तेजी के साथ 237.60 रुपये के लेवल पर पहुंच गया था। बीते एक महीने के दौरान कंपनी के शेयरों की कीमतों में 7 प्रतिशत की तेजी देखने को मिली है। कोल इंडिया ने तिमाही नतीजों के साथ डिविडेंड देने का फैसला किया है। 

डिविडेंड देने का किया ऐलान (Coal India Dividend)

कंपनी के निदेशक मंडल ने वित्त वर्ष के लिए चार रुपये प्रति शेयर के अंतिम लाभांश की घोषणा की है। कंपनी ने इससे पहले 15 रुपये प्रति शेयर और 5.25 रुपये प्रति शेयर का अंतरिम लाभांश घोषित किया था।

 चौथी तिमाही में कंपनी की बिक्री पिछले वर्ष की समान अवधि के 29,985.45 करोड़ रुपये से बढ़कर 35,161.44 करोड़ रुपये रही। पूरे वित्त वर्ष 2022-23 में कंपनी का शुद्ध लाभ 62 प्रतिशत बढ़कर रिकॉर्ड 28,125 करोड़ रुपये पर पहुंच गया। इससे पहले 2018-19 में कंपनी ने 17,464 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ कमाया था। 

1 शेयर पर 1 शेयर बोनस दे रही है  कंपनी, रिकॉर्ड डेट इसी हफ्ते 

कंपनी ने शेयर बाजार को बताया, मार्च, 2023 को समाप्त तिमाही में उसका कंसॉलिडेटड नेट प्रॉफिट 5,527.62 करोड़ रुपये या 8.98 रुपये प्रति शेयर रहा, जबकि मार्च, 2022 को समाप्त तिमाही में यह 6,715 करोड़ रुपये या 10.86 रुपये प्रति शेयर था। कंपनी ने कहा कि गैर-कार्यकारी कर्मियों के वेतन में एक जुलाई, 2021 से संशोधन नहीं हुआ है और यूनियनों के साथ एक वेतन समझौते को अंतिम रूप देने के लिए तिमाही में 5,870.16 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है। इसकी तुलना में जनवरी-मार्च, 2022 में 475.28 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया था। कोल इंडिया ने वेतन संशोधन के लिए कर्मचारी यूनियनों के साथ वार्ता शुरू कर दी है। जहां कर्मी वेतन में 47 प्रतिशत वृद्धि की मांग कर रहे हैं वहीं कंपनी ने तीन प्रतिशत वेतनवृद्धि का प्रस्ताव दिया है।

पूरे वित्त वर्ष 2022-23 के लिए, कोल इंडिया ने 8,152.75 करोड़ रुपये का प्रावधान किया है। इससे पिछले वित्त वर्ष में कंपनी ने 1,080.97 करोड़ रुपये का प्रावधान किया था। कंपनी का कोयला उत्पादन मार्च, 2023 की तिमाही में सात प्रतिशत बढ़कर 22.41 करोड़ टन रहा, जबकि मार्च, 2022 को समाप्त तिमाही में यह 18.02 करोड़ टन रहा था।

RELATED ARTICLES

Most Popular