HomeShare Marketशेयर बाजार में गिरावट के ये हैं 3 बड़े कारण, 5 सत्रों...

शेयर बाजार में गिरावट के ये हैं 3 बड़े कारण, 5 सत्रों में सेंसेक्स ने लगाया 3143 अंकों का गोता

शेयर बाजार पिछले 5 सत्रों से लगातार गिर रहा है। गिर नहीं बल्कि रोज गोते लगा रहा है। पांच मई को सेंसेक्स 56,255.07 पर खुला और 55702 पर बंद हुआ था। इसके बाद से गिरावट का सिलसिला ऐसा चला कि थमने का नाम नहीं ले रहा है। 5 मई से सेंसेक्स 3143 अंकों का गोता लगा चुका है। बता दें 19 अक्टूबर 2021 को शेयर बाजार के लिए ऐतिहासिक  दिन था, जब सेंसेक्स ऑल टाइम हाई  62245.43 के स्तर को छुआ था। करीब 8 महीने बाद आज अब तक सेंसेक्स ऑल टाइम हाई से 9133 अंक तक लुढ़क चुका है। 

Multibagger Return: अडानी के हाथ लगते ही निवेशकों के लिए भी यह स्टॉक बना कोहिनूर

अमेरिका में जारी मुद्रास्फीति के आंकड़ों ने गुरुवार की सुबह सेंसेक्स-निफ्टी को  पस्त कर दिया। अमेरिकी सीपीआई प्रिंट मार्च के 8.5 प्रतिशत के मुकाबले अप्रैल में 8.3 प्रतिशत तक तो आ गया, लेकिन अभी भी यह 8.1 प्रतिशत के विश्लेषकों के अनुमानों से अधिक है। कहा जा रहा है दुनिया की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था में मुद्रास्फीति चरम पर हो सकती है । 

गिरावट की दूसरी बड़ी वजह डॉलर की मजबूती

एशिया के बाजारों में गिरावट अमेरिका में मुद्रास्फीति  के आंकड़ों के बाद डॉलर दो दशक के उच्च स्तर के पास है, जिससे उभरते बाजार शेयरों को नुकसान पहुंचा। डॉलर इंडेक्स 103.92 पर था। आज अधिकांश एशियाई शेयर लाल निशान में कारोबार कर रहे थे। जापान के बाहर एशिया-प्रशांत शेयरों के MSCI के सूचकांक में 0.92 प्रतिशत की गिरावट आई। जापान का निक्केई 1.01 फीसदी, हांग कांग का हैंग सेंग 1.05 फीसदी और दक्षिण कोरिया का कोस्पी 0.36 फीसदी की गिरावट के साथ बंद हुआ। 

संबंधित खबरें

विदेशी निवेशकों का बाजार से बाहर निकलना

विदेशी पोर्टफोलियो निवेशक (एफपीआई) बुधवार को घरेलू शेयरों के 3,609.35 करोड़ रुपये के शुद्ध विक्रेता थे। मई में एफपीआई का बहिर्वाह 17,403 करोड़ रुपये और 2022 में 1,44,565 करोड़ रुपये तक पहुंच गया है। डॉलर इंडेक्स 104 पर और आगे और मजबूत होने की उम्मीद के साथ एफआईआई की बिक्री जारी रहने की संभावना है।

RELATED ARTICLES

Most Popular