HomeShare Marketवोडाफोन-आइडिया को मिला टैरिफ बढ़ाने का फायदा, यूजर्स से होने वाली कमाई...

वोडाफोन-आइडिया को मिला टैरिफ बढ़ाने का फायदा, यूजर्स से होने वाली कमाई भी बढ़ी

टेलिकॉम कंपनी वोडाफोन-आइडिया (Vi) ने बताया है कि जनवरी-मार्च 2022 तिमाही में मजबूत रेवेन्यू ग्रोथ के कारण उसका नेट लॉस घटा है। टैरिफ बढ़ोतरी के कारण मार्च 2022 तिमाही में कंपनी की रेवेन्यू ग्रोथ को मजबूती मिली है। जनवरी-मार्च 2022 तिमाही में वोडाफोन-आइडिया का नेट लॉस 6,563 करोड़ रुपये रहा है, जो कि दिसंबर 2021 तिमाही में 7,230 करोड़ रुपये था। वहीं, पिछले साल की समान अवधि में यह 7,022 करोड़ रुपये था। 

124 रुपये रहा एक यूजर से मिलने वाला रेवेन्यू 
ऑपरेशंस से हासिल होने वाला रेवेन्यू मार्च 2022 तिमाही में 6.46 फीसदी बढ़कर 10,271.8 करोड़ रुपये रहा है। एक साल पहले की समान अवधि के दौरान यह 9,647.8 करोड़ रुपये था। मार्च 2022 तिमाही में वोडाफोन-आइडिया का एवरेज रेवेन्यू पर यूजर (ARPU) 124 रुपये रहा, जो कि इससे पहले की तिमाही के दौरान 115 रुपये था। तिमाही दर तिमाही आधार पर इसमें 7.5 फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज की गई है। 

यह भी पढ़ें- 22 दिन में 167% का रिटर्न: 7 रुपये का शेयर हुआ ₹21 का, अडानी का नाम आते ही स्टॉक खरीदने की होड़

फाइनेंशियल ईयर 2022 की चौथी तिमाही में इबिट्डा सुधार के साथ 2,120 करोड़ रुपये पहुंच गया, जो कि चालू वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही में 1,620 करोड़ रुपये था। मार्च 2022 तिमाही में कैश एंड कैश इक्विवलेंट 1,460 करोड़ रुपये रहा और कंपनी का नेट डेट  1,96,420 करोड़ रुपये रहा। वित्त वर्ष 2022 की चौथी तिमाही के दौरान कैपेक्स स्पेंडिंग 1,210 करोड़ रुपये रहा, जो कि तीसरी तिमाही में 1,050 करोड़ रुपये था। वोडाफोन-आइडिया के शेयर मंगलवार को नेशनल स्टॉक एक्सचेंज में 8.70 रुपये के स्तर पर बंद हुए। 

संबंधित खबरें

यह भी पढ़ें- बिटक्वॉइन पर टैक्स का शिकंजा! क्रिप्टोकरेंसीज पर लग सकता है 28% का GST

RELATED ARTICLES

Most Popular