HomeShare Marketरक्षा बंधन के मौके पर दिल्ली के थोक बाजार आज बंद, सीपीओ, पामोलीन...

रक्षा बंधन के मौके पर दिल्ली के थोक बाजार आज बंद, सीपीओ, पामोलीन के भाव टूटे

व्यापारियों के एक संगठन ने कहा है कि रक्षाबंधन (Raksha Bandhan 2022) के मौके पर 11 अगस्त को दिल्ली के थोक बाजार बंद रहेंगे।  संगठन ने कहा कि चूंकि रक्षा बंधन दो दिन 11 और 12 अगस्त को मनाया जाएगा, इसलिए व्यापारियों में इस बात को लेकर भ्रम था कि अपनी दुकानें कब बंद रखें या कब खुली रखें।  चैंबर ऑफ ट्रेड एंड इंडस्ट्री (सीटीआई) के अध्यक्ष बृजेश गोयल ने एक बयान में कहा, ”रक्षा बंधन के लिए बृहस्पतिवार को शहर के थोक बाजार बंद रहेंगे, जबकि खुदरा बाजार दोनों दिन खुले रहेंगे।”
   

गोयल ने आगे कहा कि रक्षा बंधन पर दिल्ली के थोक बाजारों में हमेशा छुट्टी रहती है, लेकिन इस बार त्योहार दो दिन होने के कारण व्यापारियों में संशय बना हुआ है।   उन्होंने कहा कि सीटीआई ने सभी बड़े बाजार संघों के पदाधिकारियों से बात की और आखिरकार वे सभी 11 अगस्त को थोक बाजार बंद करने पर सहमत हुए।

मुख्य सड़क पर खुदरा दुकानें खुली रहेंगी

बयान में कहा गया है कि गांधी नगर, कश्मीरी गेट, भगीरथ प्लेस इलेक्ट्रिक मार्केट, चांदनी चौक कुचा महाजनी मार्केट, चावड़ी बाजार स्टील मार्केट, नया बाजार, खारी बावली समेत अन्य थोक बाजार 11 अगस्त को बंद रहेंगे, जबकि चांदनी चौक और सदर बाजार में मुख्य सड़क पर खुदरा दुकानें खुली रहेंगी।

यहां दोनों दिन खुले रहेंगे बाजार

सीटीआई ने आगे कहा कि कमला नगर, कनॉट प्लेस, सरोजिनी नगर, राजौरी गार्डन, लाजपत नगर, साउथ एक्सटेंशन, रोहिणी, पीतमपुरा, नेताजी सुभाष प्लेस, करोल बाग सहित राजधानी के खुदरा बाजार दोनों दिन खुले रहेंगे।

बुधवार का हाल

दिल्ली तेल-तिलहन बाजार में मूंगफली एवं सोयाबीन तेल- तिलहन तथा बिनौला तेल कीमतों में सुधार आया जबकि मलेशिया एक्सचेंज के तेज होने के बावजूद आयात भाव के मुकाबले स्थानीय भाव सस्ता होने के कारण कच्चे पामतेल (सीपीओ) और पामोलीन तेल कीमतों में गिरावट आई। सरसों तेल-तिलहन के भाव पूर्वस्तर पर बंद हुए।

पामोलीन के सस्ता होने और छुट्टियों के कारण महंगे भाव पर बिकने वाले सोयाबीन के लिए लिवाल कम हैं, लेकिन आयात भाव महंगा होने के कारण सोयाबीन तेल-तिलहन कीमतों में सुधार देखने को मिल रहा है। उन्होंने बतया कि सोयाबीन का आयात करने में नुकसान है क्योंकि पामोलीन के मुकाबले सोयाबीन डीगम 300 डॉलर प्रति टन महंगा है।
            बुधवार को तेल-तिलहनों के भाव इस प्रकार रहे:

  •      सरसों तिलहन – 7,240-7,290 (42 प्रतिशत कंडीशन का भाव) रुपये प्रति क्विंटल।
  •      मूंगफली – 6,940 – 7,065 रुपये प्रति क्विंटल।
  •      मूंगफली तेल मिल डिलिवरी (गुजरात) – 16,250 रुपये प्रति क्विंटल।
  •      मूंगफली सॉल्वेंट रिफाइंड तेल 2,710 – 2,900 रुपये प्रति टिन।
  •      सरसों तेल दादरी- 14,600 रुपये प्रति क्विंटल।
  •      सरसों पक्की घानी- 2,310-2,390 रुपये प्रति टिन।
  •      सरसों कच्ची घानी- 2,340-2,455 रुपये प्रति टिन।
  •      तिल तेल मिल डिलिवरी – 17,000-18,500 रुपये प्रति क्विंटल।
  •      सोयाबीन तेल मिल डिलिवरी दिल्ली- 13,500 रुपये प्रति क्विंटल।
  •      सोयाबीन मिल डिलिवरी इंदौर- 13,350 रुपये प्रति क्विंटल।
  •      सोयाबीन तेल डीगम, कांडला- 12,150 रुपये प्रति क्विंटल।
  •      सीपीओ एक्स-कांडला- 11,100 रुपये प्रति क्विंटल।
  •      बिनौला मिल डिलिवरी (हरियाणा)- 14,300 रुपये प्रति क्विंटल।
  •      पामोलिन आरबीडी, दिल्ली- 13,300 रुपये प्रति क्विंटल।
  •      पामोलिन एक्स- कांडला- 12,250 रुपये (बिना जीएसटी के) प्रति क्विंटल।
  •      सोयाबीन दाना – 6,425-6,500 रुपये प्रति क्विंटल।
  •      सोयाबीन लूज 6,225- 6,300 रुपये प्रति क्विंटल।
  •      मक्का खल (सरिस्का) 4,010 रुपये प्रति क्विंटल।
  • RELATED ARTICLES

    Most Popular