HomeShare Marketमोदी सरकार के कार्यकाल में खूब उछल रहे शेयर, इन शेयरों से...

मोदी सरकार के कार्यकाल में खूब उछल रहे शेयर, इन शेयरों से निवेशक हुए मालामाल, 1 लाख बन गए ₹3.30 करोड़ 

8 years of modi government: नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार (BJP govt) 26 मई को अपना आठवां साल पूरा करने के लिए तैयार है। बाजार पर नजर रखने वालों का मानना ​​​​है कि 2014 के बाद से कई सुधारों और कारोबार के अनुकूल शासन ने बाजार के पक्ष में काम किया। नतीजतन, बेंचमार्क इंडेक्स बीएसई सेंसेक्स 20 मई 2022 को 120 प्रतिशत बढ़कर 54,326.39 पर पहुंच गया, जो 26 मई 2014 को 24,716.88 अंक पर था। इस अवधि के दौरान, सूचकांक 19 अक्टूबर, 2021 को 62,245.43 के उच्च स्तर को टच किया  था।

491 शेयरों में 500 पर्सेंट से ज्यादा की तेजी
इस दौरान साल 2014 से लेकर 2022 तक के आंकड़ों पर नजर डाले तो बीएसई के 491 शेयरों में 500 पर्सेंट से अधिक की तेजी देखी गई। इस दौरान सबसे अधिक तेजी साधना नाइट्रो केम लिमिटेट (Sadhana Nitro Chem Ltd) के शेयरों में रही। यह शेयर आठ साल में 33,083 पर्सेंट की तेजी के साथ एक्सचेंज में टॉप गेनर बनकर (Stock return) उभरा। कंपनी के शेयर 26 मई 2014 को 40 पैसे से बढ़कर 20 मई 2022 को 132.10 रुपये हो गए। यानी इस दौरान अगर किसी निवेशक ने एक लाख रुपये का निवेश होता और अपने निवेश को बनाए रखता तो आज उसे 3.30 करोड़ रुपये का फायदा होता।

यह भी पढ़ें- गौतम अडानी अबू धाबी की इस तेल कंपनी पर खेलेंगे बड़ा दांव! आ रहा है UAE का सबसे बड़ा IPO

संबंधित खबरें

इन शेयरों में रही सबसे अच्छी तेजी
8 साल के दौरान एसईएल मैन्युफैक्चरिंग कंपनी 18,859.36 पर्सेंट का रिटर्न दिया है। तानला प्लेटफॉर्म्स 18,702.08 पर्सेंट, अपोलो फिनवेस्ट (इंडिया) ने 9,623 पर्सेंट का रिटर्न दिया है। इसके अलावा इक्विप सोशल इंपैक्ट टेक्नोलॉजीज 9,485.71 पर्सेंट और डायनाकॉन्स सिस्टम्स एंड सॉल्यूशंस 9,316.67 पर्सेंट का रिटर्न दिया है।

ये शेयर भी हैं लाइन में
पिछले आठ सालों में डुकॉन इंफ्राटेक्नोलॉजीज, एनजीएल फाइन-केम, रघुवीर सिंथेटिक्स, राजरतन ग्लोबल वायर, एचएलई ग्लासकोट, शिवालिक बायमेटल कंट्रोल्स, विधि स्पेशलिटी फूड इंग्रेडिएंट्स, स्टाइलम इंडस्ट्रीज, सनमित इंफ्रा, सेजल ग्लास, कॉस्मो फेराइट्स और बालाजी एमाइंस भी 6,000 से 8,000 फीसदी ऊपर चढ़े हैं। 

क्या कहते हैं एक्सपर्ट
मार्केट एक्सपर्ट का मानना है कि पिछले आठ सालों में बिजनेस फ्रेंडली माहौल बना है। इस दौरान GST से लेकर कई पाॅलिसी पर काम हुआ है तो कुछ में सुधार हुआ है। कुल मिलाकर भारत में कारोबार के अनुकूल माहौल रहे हैं। कोविड महामारी के दौरान सरकार द्वारा उठाए गए कई उपायों ने भी पिछले कुछ महीनों में बाजार की धारणा को सुधारने में मदद की है।

यह भी पढ़ें- Paytm के शेयरों की बढ़ी खरीदारी: ₹1300 पर पहुंच सकता है भाव, अभी दांव लगाने से 110% का मुनाफा

इन सेक्टर्स के शेयरों में भी तेजी
सेक्टर के हिसाब से बीएसई कंज्यूमर ड्यूरेबल्स इंडेक्स सबसे ज्यादा 358 फीसदी चढ़ा। इसके बाद बीएसई आईटी (242 फीसदी ऊपर), बीएसई हेल्थकेयर (129 फीसदी ऊपर), बीएसई बैंकेक्स (127.86 फीसदी ऊपर) और बीएसई एफएमसीजी (108 फीसदी ऊपर) का स्थान रहा। बीएसई पावर, कैपिटल गुड्स, रियल्टी, ऑटो, ऑयल एंड गैस, मेटल और टेलीकॉम इंडेक्स भी 22 फीसदी से 100 फीसदी के बीच चढ़े।


 

RELATED ARTICLES

Most Popular