HomeShare Marketमई में सेंसेक्स 4000 से अधिक अंक टूटा पर नहीं टूटे ये...

मई में सेंसेक्स 4000 से अधिक अंक टूटा पर नहीं टूटे ये शेयर, अपने निवेशकों को दिया अच्छा रिटर्न

मई 2022 में  अब तक शेयर बाजार ने निवेशकों की लुटिया डुबोई है। इस महीने 300 कंपनियों के शेयर भाव 52 हफ्ते के निचले स्तर पर आ गए है। सेंसेक्स मई में अब तक 4 हजार अंक से अधिक टूट चुका है और विदेशी निवेशक लगातार बिकवाली कर रहे हैं। बीते सप्ताह बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 2,041.96 अंक या 3.72 प्रतिशत टूटा।  इतनी सारी बुरी खबरों के बीच कुछ ऐसे स्टॉक भी जो इस आंधी में न केवल डटे हैं बल्कि अपने निवेशकों को पिछले 15 दिन में मुनाफा भी कमवाया है।

लार्ज कैप और मिड कैप स्टॉक में पहला नाम गुजरात गैस का है, जो 15 दिन में अपने निवेशकों को 9.11 फिसद का रिटर्न दिया है। शुक्रवार को यह स्टॉक 568.95 रुपये पर बढ़त के साथ बंद हुआ। वहीं, एबीबी इंडिया ने पिछले 15 दिन में 6.86 फीसद की बढ़त हासिल की। कंपनी का स्टॉक शुक्रवार को 2290.60 रुपये पर बंद हुआ।

भारत को लेकर क्यों सहमे हैं विदेशी निवेशक? अंधाधुंध बिकवाली के ये हैं 5 कारण

हीरो मोटर भी इस अवधि में 5.26 फिसद की बढ़त बनाने में कामयाब रहा। गिरावट भरे बाजार में पिछले 15 दिन में बढ़त हासिल करने वाले स्टॉक्स में Coromandel Int., Blue Dart, Power Grid, P&G Health, MRF, Varun Beverages, Adani Power, Colgate-Palmolive,रुचि सोया जैसे स्टॉक्स के भी नाम हैं।

संबंधित खबरें

अगर बड़ी कंपनियों की बात करें बीते हफ्ते सेंसेक्स की 10 में से 8 कंपनियों को तगड़ा झटका लगा है। इन 8 कंपनियों के मार्केट कैप में 2,48,372.97 करोड़ रुपये की गिरावट आई है। इस दौरान सबसे अधिक नुकसान रिलायंस इंडस्ट्रीज को उठाना पड़ा। 

इस हफ्ते किसको कितनी लगी चपत

  • रिलायंस इंडस्ट्रीज का मार्केट कैप 1,30,627.7 करोड़ रुपये घटकर 16,42,568.98 करोड़ रुपये रह गया। 
  • एसबीआई के मार्केट कैप में 35,073.72 करोड़ रुपये की गिरावट आई और यह 3,97,189.84 करोड़ रुपये पर आ गया। 
  • आईसीआईसीआई बैंक का बाजार मूल्यांकन 29,279.72 करोड़ रुपये टूटकर 4,70,856.80 करोड़ रुपये पर आ गया।
  •  इन्फोसिस का 16,869.36 करोड़ रुपये के नुकसान से 6,32,432.92 करोड़ रुपये पर आ गया। 
  • एचडीएफसी बैंक की बाजार हैसियत 14,427.28 करोड़ रुपये घटकर 7,16,641.13 करोड़ रुपये पर।
  •  भारती एयरटेल की 11,533.26 करोड़ रुपये के नुकसान के साथ 3,78,620.36 करोड़ रुपये पर आ गई।
  • RELATED ARTICLES

    Most Popular