HomeShare Marketभारत में भी बिक रहा खतरनाक Dove ड्राई शैंपू? अमेरिका में कार्रवाई...

भारत में भी बिक रहा खतरनाक Dove ड्राई शैंपू? अमेरिका में कार्रवाई के बीच HUL ने दी सफाई

अमेरिका में यूनिलीवर के मशहूर प्रोडक्ट Dove ड्राई शैंपू में कैंसर से जुड़ी आशंकाओं के बीच अब भारत में इस पर तरह-तरह की बातें हो रही हैं। हालांकि यूनिलीवर की स्थानीय सहायक कंपनी हिंदुस्तान यूनिलीवर (HUL) ने इन चर्चाओं पर विराम लगाते हुए कहा है कि कंपनी भारत में ऐसे किसी उत्पाद को नहीं बेचती है। 

क्या कहा HUL ने: HUL के मुताबिक कंपनी न तो भारत में ऐसे उत्पादों का निर्माण करती है और न ही उन्हें यहां बेचती है। HUL के प्रवक्ता ने बिजनेस टुडे को बताया, “ हम भारत में ड्राई शैंपू का निर्माण या बिक्री नहीं करते हैं। यूनिलीवर यूएस और कनाडा ने स्वेच्छा से अक्टूबर 2021 से पहले उत्पादित ड्राई शैंपू के चुनिंदा लॉट कोड को बाजार से वापस मंगाया है।”

प्रवक्ता ने बताया कि एक आंतरिक जांच के बाद इस प्रोडक्ट में बेंजीन के ऊंचे स्तर की पहचान की गई। इसके बाद ही बाजार से वापस मंगाने का फैसला लिया गया। यूनिलीवर द्वारा डव ड्राई शैंपू की बिक्री मुख्य रूप से अमेरिका और कनाडा के बाजारों में की जा रही है। 

बेंजीन की वजह से लिया गया फैसला: बीते 21 अक्टूबर को यूएस के नियामक निकाय फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन ने बाजार से Dove ड्राई शैंपू के लिए एक रिकॉल नोटिस जारी किया। रिसर्चर्स ने पाया है कि इस प्रोडक्ट में बेंजीन की ज्यादा मात्रा है। यह कैंसर का कारण हो सकता है। आमतौर पर ड्राई शैंपू का इस्तेमाल पानी की कमी वाले क्षेत्रों में किया जाता है। इस प्रोडक्ट का इस्तेमाल करने पर बाल धोने के लिए पानी की जरूरत नहीं होती है।

ये पढ़ें-Dove और Tresemme शैम्पू से कैंसर का खतरा! Unilever ने वापस मंगाए प्रोडक्ट्स

Dove के अलावा यूनिलीवर ब्रांड के प्रोडक्ट- नेक्सक्सस, सुवे, टीआईजीआई और ट्रेसेमे के लिए स्वैच्छिक रिकॉल ऑर्डर जारी किया गया है। इन सभी प्रोडक्ट्स में बेंजीन की ज्यादा मात्रा की आशंकाएं हैं।

RELATED ARTICLES

Most Popular