HomeShare Marketबढ़त के साथ खुला शेयर बाजार, सेंसेक्स 53000 के पार, निफ्टी में...

बढ़त के साथ खुला शेयर बाजार, सेंसेक्स 53000 के पार, निफ्टी में भी तेजी

Share Market Live Update:  लगातार 6 सत्रों में गिरावट पर बंद बाजार आज सप्ताह के पहले दिन मजबूती के साथ खुला।  आज  बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का 30 शेयरों वाला प्रमुख संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 152 अंकों के बढ़त के साथ  52949 के स्तर पर खुला तो वहीं, निफ्टी ने भी कारोबार की शुरुआत हरे निशान के साथ की, लेकिन बाजार खुलते ही लड़खड़ा गया। शुरुआती कारोबार में सेंसेक्स 122.06 अंकों के नुकसान के साथ 52,671.56  के स्तर पर आ गया। वहीं, निफ्टी 15,739.65 पर आ गया था। हालांकि बुहत जल्द बाजार इससे उबर गया और 9.25 बजे सेंसेक्स 259.83 अंकों की अच्छी बढ़त के साथ 53,053.45 पर पहुंच गया।

बता दें  बीते सप्ताह सेंसेक्स 2,041.96 अंक या 3.72 प्रतिशत नीचे आया। वहीं निफ्टी में 629.10 अंक या 3.83 प्रतिशत का नुकसान रहा।

इस हफ्ते कैसी रहेगी बाजार की चाल

स्वस्तिका के शोध प्रमुख संतोष मीणा ने कहा, ”मुद्रास्फीति और केंद्रीय बैंकों द्वारा अपने मौद्रिक रुख को सख्त करना दुनियाभर के बाजारों के लिए चिंता का विषय है। स्थानीय बाजार में मंदड़िये हावी हैं, लेकिन उन्होंने कुछ अधिक बिकवाली की है, जिससे उनके रुख में बदलाव आ सकता है। अमेरिकी बाजार में बिकवाली चल रही है। विशेष रूप से निवेशक प्रौद्योगिकी शेयर बेच रहे हैं। हालांकि, पिछले दो कारोबारी सत्रों में कुछ स्थिरता देखने को मिली हैं। ऐसे में आगे कुछ राहत की उम्मीद की जा सकती है।”
      वैश्विक रुझानों से तय होगी बाजार की दिशा

संबंधित खबरें

घरेलू मोर्चे पर बड़े घटनाक्रमों के अभाव में बाजार की दिशा वैश्विक रुझानों से तय होगी। हालांकि, कंपनियों के चौथी तिमाही के परिणामों के मद्देनजर कुछ शेयर विशेष गतिविधियां देखने को मिल सकती हैं। घरेलू मोर्चे पर जीवन बीमा निगम (एलआईसी) का आरंभिक सार्वजनिक निर्गम (आईपीओ) 17 मई को सूचीबद्ध होना है और यह प्रमुख उत्प्रेरक साबित हो सकता है। एफआईआई बिकवाली कर रहे हैं, ऐसे में घरेलू संस्थागत निवेशक (डीआईआई) इसकी भरपाई करने की कोशिश कर सकते हैं। ऐसे में उनके रुख पर भी सभी की निगाह रहेगी।


विश्लेषकों का कहना है कि  डॉलर इंडेक्स का रुख, कच्चे तेल के दाम और रुपये का उतार-चढ़ाव भी घरेलू बाजारों के लिए महत्वपूर्ण रहेगा।  निवेशकों की निगाह अप्रैल के थोक मुद्रास्फीति के आंकड़ों पर भी रहेगी, जो मंगलवार को आने हैं।

कोटक सिक्योरिटीज की राय

इक्विटी शोध (खुदरा) प्रमुख श्रीकांत चौहान ने कहा कि बांड पर बढ़ता प्रतिफल, मुद्रास्फीति का ऊंचा स्तर और वैश्विक स्तर पर केंद्रीय बैंकों द्वारा मौद्रिक रुख को सख्त किए जाने का निकट भविष्य में बाजार की धारणा पर असर पड़ेगा। तिमाही नतीजों की वजह से कुछ शेयर विशेष गतिविधियां देखने को मिल सकती हैं।

इस सप्ताह भारती एयरटेल, डीएलएफ, इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन, आईटीसी, आईडीएफसी, जेके टायर एंड इंडस्ट्रीज और एनटीपीसी के तिमाही नतीजे आने हैं।
 

जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज की राय

कंपनी के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा कि रुपये की कमजोरी, ऊंची मुद्रास्फीति और चीन में लॉकडाउन की वजह से पिछले सप्ताह बाजारों में उतार-चढ़ाव रहा।   उन्होंने कहा कि आगे चलकर फेडरल रिजर्व के उपायों से मुद्रास्फीति में गिरावट की रफ्तार से बाजार की दिशा तय होगी। 

     

 

RELATED ARTICLES

Most Popular