HomeShare Marketपोस्ट ऑफिस के ग्राहक आसानी से भेज पाएंगे पैसा, ये खास सर्विस...

पोस्ट ऑफिस के ग्राहक आसानी से भेज पाएंगे पैसा, ये खास सर्विस होने जा रही है शुरू 

अगर आपका भी सेविंग अकाउंट पोस्ट ऑफिस में है तो आपके लिए बड़ी खुशखबरी मिलने वाली है। डिपार्टमेंट ऑफ पोस्ट (DoP) ने संचार मंत्रालय के सुपरविजन में NEFT और RTGS की परिक्षण की शुरुआत कर दी है। पोस्ट ऑफिस के ग्राहकों को यह सुविधा 31 मई 2022 से मिलने लगेगी। यानी अब पोस्ट ऑफिस से भी पैसा भेजना पहले के मुकाबले और आसान होगा। 

यह भी पढ़ें: 405 रुपये तक जाएगा इस कंपनी के शेयर का भाव! एक्सपर्ट ने कहा खरीद लो

कितना लगेगा पैसा? 

10 हजार रुपये से अधिक के ट्रांजैक्शन के लिए 2.50 रुपये और जीएसटी का भुगतान करना होगा। 

10 हजार से अधिक और 1 लाख रुपये के ट्रांजैक्शन के लिए – 5 रुपये और जीएसटी को जोड़कर शुल्क देना होगा। 

1 लाख रुपये से अधिक और 2 लाख रुपये तक के ट्रांजैक्शन पर – 15 रुपये और जीएसटी का भुगतान करना होगा। 

2 लाख से अधिकतम सीमा तक पैसा भेजने पर 25 रुपये और जीएसटी का भुगतान करना होगा।

कुछ अन्य महत्वपूर्ण बातें 

1- NEFT की मिनिमम लिमिट 1 रुपये और अधिकतम सीमा 15 लाख रुपये है। 

2- एक दिन में अधिकतम ट्रांजैक्शन की सीमा 5 है। 

संबंधित खबरें

3- किसी प्रकार की दिक्कत पर ग्राहक 1800 2666 868 रुपये दे सकते हैं। 

क्या है RTGS और NEFT? 

आरटीजीएस फंड ट्रांसफर करने की एक तेज प्रक्रिया है। इस सिस्टम के जरिए आप एक बैंक अकाउंट से दूसरे में पैसे ट्रांसफर कर सकते हैं। आरटीजीएस का फुल फार्म Real Time Gross Settlement है। आरटीजीएस और NEFT में अगर अंतर देखा जाए तो दोनों का काम बैंक अकाउंट में इलेक्ट्रानिक फंड ट्रांसफर है। एनईएफटी में जहां पैसे ट्रांसफर करने की कोई लिमिट नहीं है तो वहीं आरटीजीएस में आपको कम से कम दो लाख रुपये का ट्रांसफर करना होगा। एनईएफटी में फंड दूसरे खाते में पहुंचने में थोड़ा समय लगता है पर RTGS में यह तुरंत पहुंच जाता है। बता दें, यह सुविधा 24×7×365 रहेगी।

RELATED ARTICLES

Most Popular