HomeShare Marketपावर प्लांट्स में कोयले की किल्लत, बिजली संकट का सता रहा डर

पावर प्लांट्स में कोयले की किल्लत, बिजली संकट का सता रहा डर

देश भर के थर्मल पावर प्लांट्स में फिलहाल कोयले की किल्लत है। प्लांट्स में कोयले की कमी बिजली संकट का संकेत दे रहे हैं। ऑल इंडिया पावर इंजीनियर्स फेडरेशन (AIPEF) के चेयरमैन शैलेंद्र दुबे का कहना है कि इंडियन पावर प्लांट्स में कोयले की इनवेंटरी सीमित बनी हुई है। फिलहाल, करीब नौ दिन का स्टॉक है। नॉर्म्स के मुताबिक, पिटहेड्स (कोयले की खान का एंट्रेस) के करीब स्थित प्लांट्स में 17 दिन का और कोल पिटहेड्स से दूर प्लांट्स में 26 दिन का कोल स्टॉक होना चाहिए। 

इस वजह से पावर प्लांट्स में कोल इनवेंटरी की कमी
AIPEF के चेयरमैन शैलेंद्र दुबे ने कहा है, ‘देश भर में थर्मल पावर प्लांट्स कोयले की कमी से जूझ रहे हैं, क्योंकि राज्यों में पावर डिमांड बढ़ गई है और इनमें से कई कोयले का पर्याप्त स्टॉक न होने के कारण डिमांड और सप्लाई के बीच के अंतर को पाट नहीं पा रहे हैं।’ दुबे का कहना है कि बिजली की ऊंची मांग के साथ आयातित कोयले के हाई प्राइस और कोयले के ट्रांसपोर्ट के लिए रेलवे रैक्स की कमी का भी पावर प्लांट्स में कोल इनवेंटरी पर असर पड़ा है। मौजूदा समय में केवल 412 रैक्स उपलब्ध हैं, जबकि रोजाना की जरूरत 453 रैक्स की है। 

यह भी पढ़ें- ₹3400 पर जाएगा मुकेश अंबानी की कंपनी रिलायंस का स्टॉक, अभी दांव लगाने पर तगड़ा मुनाफा, ये है वजह

संबंधित खबरें

100 से 300 डॉलर प्रति टन हुई इंपोर्टेड कोयले की कीमत
ऑल इंडिया पावर इंजीनियर्स फेडरेशन के मुताबिक नॉर्दर्न रीजन में राजस्थान, पंजाब, हरियाणा और उत्तर प्रदेश सबसे ज्यादा प्रभावित राज्य हैं। उत्तर प्रदेश में कोल स्टॉक 7 दिन के लिए बचा है। वहीं, हरियाणा में कोयले का स्टॉक 8 दिन का है। राजस्थान का कोयले का स्टॉक 17 दिन के लिए है, जबकि स्टैंडर्ड नॉर्म्स के मुताबिक 26 दिन का कोयले का स्टॉक होना चाहिए। आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु, तेलंगाना, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, गुजरात, झारखंड और छत्तीसगढ़ भी कोयले की कमी का सामना कर रहे हैं। AIPEF ने बयान में कहा है कि रूस और यूक्रेन के बीच लड़ाई के कारण इंपोर्टेड कोयले की कीमत 100 डॉलर प्रति टन से बढ़कर 300 डॉलर प्रति टन हो गई है। 

यह भी पढ़ें- केमिकल स्टॉक से एक्सपर्ट की बढ़ी उम्मीद, निवेशकों के लिए ये है नया टारगेट प्राइस
 

RELATED ARTICLES

Most Popular