HomeShare Marketदौड़ लगा रहे अडानी पावर, अडानी विल्मर और अडानी पोर्ट्स के शेयर,...

दौड़ लगा रहे अडानी पावर, अडानी विल्मर और अडानी पोर्ट्स के शेयर, एक्सपर्ट्स ने बताई यह वजह

पिछले 1 महीने से ज्यादा समय से शेयर बाजार में उठा-पटक चल रही है। अडानी ग्रुप के कुछ स्टॉक्स ऐसे हैं, जिन्होंने बाजार की इस उठा-पटक में भी अपने शेयरधारकों को शानदार रिटर्न दिया है। हाल में स्टॉक मार्केट में लिस्ट हुई अडानी विल्मर (Adani Wilmar) के शेयरों में पिछले एक महीने में करीब 32 फीसदी का उछाल आया है और मंगलवार को अडानी विल्मर के शेयर अपने लाइफ-टाइम हाई पर पहुंच गए। कंपनी के शेयरों ने लिस्टिंग के बाद पहली बार 500 रुपये के ऊपर के लेवल को छुआ है। 

अडानी पावर के शेयर पिछले 1 महीने में करीब 40% चढ़े
इसी तरह, अडानी पावर (Adani Power) के शेयर अपने लाइफ-टाइम हाई पर पहुंच गए हैं। कंपनी के शेयर नेशनल स्टॉक एक्सचेंज पर 181.40 रुपये के स्तर पर पहुंच गए। अडानी पावर के शेयरों ने पिछले एक महीने में करीब 40 पर्सेंट रिटर्न निवेशकों को दिया है। वहीं, अडानी पोर्ट्स के शेयर पिछले एक महीने में करीब 7.5 फीसदी चढ़े हैं।     

यह भी पढ़ें- Bank Holidays: कल के बाद लगातार 5 दिन तक बंद रहेंगे बैंक, फटाफट निपटा लें जरूरी काम 

संबंधित खबरें

कमोडिटीज के प्राइसेज बढ़ने से अडानी ग्रुप के स्टॉक्स में तेजी
स्टॉक मार्केट एक्सपर्ट्स के मुताबिक, कमोडिटीज की कीमतें बढ़ने के कारण अडानी ग्रुप के स्टॉक्स में तेजी आ रही है। पॉम ऑयल के प्राइसेज बढ़ने से ट्रेड ऐक्टिविटीज बढ़ी हैं, जिसका सीधा मतलब है कि अडानी पोर्ट्स के बिजनेस में तेजी आई है। एक्सपर्ट्स का कहना है कि पॉम ऑयल की कीमतें बढ़ने से अडानी विल्मर को अपनी अनसोल्ड इनवेंटरी पर मार्जिन बेनेफिट होगा। इससे कंपनी की बैलेंस शीट मजबूत होगी, क्योंकि अभी कुछ और समय तक कीमतों में तेजी बनी रह सकती है।  

यह भी पढ़ें- पेट्रोल पर मोदी सरकार ने 5 रुपये टैक्स घटाकर जो राहत दी थी, उसका असर अब खत्म, 9 दिन में ही 5.60 रुपये महंगा हुआ तेल

अडानी विल्मर को होगा अनसोल्ड इनवेंटरी पर मार्जिन बेनेफिट
मारवाड़ी फाइनेंशियल सर्विसेज में इक्विटी रिसर्च के हेड और वाइस प्रेसिडेंट जय ठक्कर का कहना है, ‘दुनिया भर में कमोडिटी प्राइसेज बढ़ने से अडानी ग्रुप के स्टॉक्स अपवार्ड मोमेंटम में हैं। पॉम ऑयल के प्राइसेज में बढ़ोतरी से निश्चित रूप से अडानी विल्मर और अडानी पोर्ट्स लिमिटेड के बिजनेस को फायदा होगा। इन कमोडिटीज के प्राइसेज में कुछ समय तक तेजी बनी रहने की उम्मीद है, ऐसे में कंपनी को अनसोल्ड इनवेंटरी पर मार्जिन बेनेफिट होगा। अडानी विल्मर के शेयरों में लगातार 2 दिन अपर सर्किट लगा है और स्टॉक्स ने 420 रुपये के लेवल के ऊपर ब्रेकआउट दिया है। अब यह लेवल निकट भविष्य में स्टॉक के लिए अहम सपोर्ट के रूप में काम करेंगे।’

अडानी पावर के शेयरों में इस वजह से आई तेजी
अडानी पावर के शेयरों में आई तेजी के बारे में मारवाड़ी फाइनेंशियल सर्विसेज के जय ठक्कर का कहना है कि सुप्रीम कोर्ट की तरफ से अडानी पावर के पक्ष में ऑर्डर दिए जाने के बाद कंपनी के शेयरों में उछाल आया है। सुप्रीम कोर्ट ने राजस्थान बेस्ड 3 डिस्कॉम से कंपनी का बकाया क्लीयर करने को कहा है। अगर टेक्निकल पैटर्न की बात करें तो अडानी पावर के शेयरों ने वॉल्यूम में अच्छी तेजी के साथ 52 हफ्ते का नया हाई बनाया है। कंपनी के शेयरों ने प्राइस-वॉल्यूम ब्रेकआउट दिया है।

RELATED ARTICLES

Most Popular