HomeShare Marketतिमाही नतीजों ने किया निराश, फिर क्यों SBI पर दांव लगाने की...

तिमाही नतीजों ने किया निराश, फिर क्यों SBI पर दांव लगाने की सलाह दे रहे हैं एक्सपर्ट; ये है वजह 

भारतीय स्टेट बैंक (SBI) का चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में नेट प्राॅफिट सात फीसदी कम होकर 6,068 करोड़ रुपये रहा है। आय घटने से बैंक का लाभ भी कम हुआ है। एसबीआई ने शनिवार को शेयर बाजारों को दी गई जानकारी में कहा कि एक साल पहले की अप्रैल-जून तिमाही में उसे 6,504 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ हुआ था।

नुकसान के बाद भी बुलिश क्यों हैं एक्सपर्ट? 

ब्रोकरेज फर्म मोतीलाल ओसवाल के अनुसार, ‘एसबीआई के नेट प्राॅफिट ग्रोथ पर असर की वजह मार्केट टू मार्केट लाॅस है। अच्छी बात है कि लोन ग्रोथ पहले की तुलना में बेहतर है। यही वजह है कि आने वाली तिमाहियों में लोन की बेहतर व्यवस्था का असर कमाई पर भी दिखेगा।’ ब्रोकरेज ने 625 रुपये के टारगेट प्राइस के साथ ‘बाय’ टैग दिया है। वहीं, निर्मल ब्रोकरेज ने भी 678 रुपये के टारगेट प्राइस के साथ ‘बाय’ टैग दिया है। 

यह भी पढ़ें: 7 महीने में इस स्टॉक ने एक लाख रुपये का बनाया 4 लाख, निवेशकों की किस्मत ने ली करवट

क्या कहते हैं तिमाही नतीजे? 
     
देश के सबसे बड़े बैंक ने कहा कि वित्त वर्ष 2022-23 की पहली तिमाही में उसकी एकल आधार पर आय घटकर 74,998.57 करोड़ रुपये रह गई जो पिछले वर्ष समान तिमाही में 77,347.17 करोड़ रुपये थी। बैंक का परिचालन लाभ भी 33 फीसदी कम होकर 12,753 करोड़ रुपये रह गया जो पिछले वर्ष समान तिमाही में 18,975 करोड़ रुपये था। हालांकि ब्याज से प्राप्त आय पिछले वर्ष के 65,564 करोड़ रुपये के मुकाबले बढ़कर 72,676 करोड़ रुपये हो गई। इसके साथ ही शुद्ध ब्याज आय भी बढ़कर 31,196 करोड़ रुपये हो गई जो पिछले वर्ष 27,638 करोड़ रुपये थी। पहली  तिमाही में बैक का शुद्ध ब्याज मार्जिन पहले के 3.15 फीसदी से बढ़कर 3.23 फीसदी हो गया।     

बैंक का एनपीए अनुपात पिछले वर्ष के 5.32 फीसदी से सुधरकर समीक्षाधीन तिमाही में 3.91 फीसदी हो गया। इसी तरह शुद्ध एनपीए भी पिछले वर्ष की जून तिमाही के 1.7 फीसदी से घटकर जून 2022 में 1.02 फीसदी हो गया। इस वजह से फंसे कर्ज के लिए प्रावधान कम किया गया जो 4,268 करोड़ रुपये रहा। पिछले वर्ष यह 5,030 करोड़ रुपये था। समेकित आधार पर एसबीआई का शुद्ध लाभ मामूली गिरावट के साथ 7,325.11 करोड़ रुपये हो गया। पिछले वर्ष अप्रैल-जून में यह 7,379.91 करोड़ रुपये था। बैंक की कुल आय अप्रैल-जून, 2021 के 93,266.94 करोड़ रुपये से बढ़कर अप्रैल-जून, 2022 में 94.524.30 करोड़ रुपये हो गई।

(एजेंसी के इनपुट के साथ)

(डिस्‍क्‍लेमर: यहां सिर्फ शेयर के परफॉर्मेंस की जानकारी दी गई है, यह निवेश की सलाह नहीं है। शेयर बाजार में निवेश जोखिमों के अधीन है और निवेश से पहले अपने एडवाइजर से परामर्श कर लें।)

RELATED ARTICLES

Most Popular