HomeShare Marketडोसा के शौकीन थे राकेश झुनझुनवाला, अगले जन्म के लिए भगवान से...

डोसा के शौकीन थे राकेश झुनझुनवाला, अगले जन्म के लिए भगवान से की थी ये डिमांड

शेयर बाजार के दिग्गज निवेशक राकेश झुनझुनवाला का निधन हो गया है। वह 62 वर्ष के थे। बिग बुल के नाम से मशहूर रहे झुनझुनवाला का नेटवर्थ करीब 5.8 अरब डॉलर था। आज हम आपको बिग बुल के कुछ दिलचस्प किस्से और पसंद के बारे में बताएंगे।

मां सबसे बड़ी शुभचिंतक: साल 2009 में ईटी नाउ को दिए एक इंटरव्यू में राकेश झुनझुनवाला ने अपनी मां को सबसे बड़ा शुभचिंतक बताया था। उन्होंने बताया कि घर में किसी ने शेयर बाजार में निवेश के लिए किसी ने मना नहीं किया लेकिन चेतावनी जरूर दी। 

अगले जन्म के लिए डिमांड: इंटरव्यू में झुनझुनवाला ने अपने अगले जन्म के लिए भगवान से कुछ डिमांड की थी। उन्होंने कहा था- मैं चाहूंगा कि अगले जन्म में भी मुझे वही माता-पिता, वही भाई और बहन, वही पत्नी, वही दोस्त चाहिए।

ये पढ़ें-बियर से बिग बुल बनने की कहानी, हर्षद मेहता के दौर में जमाई धाक
 अंधविश्वासी नहीं लेकिन.. शेयर बाजार में निवेश का किस्मत से कोई लेना-देना है? इस सवाल के जवाब में झुनझुनवाला ने कहा था-मैं यह नहीं कहूंगा कि मैं अंधविश्वासी हूं। लेकिन कुछ ऐसी भी चीजें होती हैं, जो हमारी कोशिश नहीं होती। 

तरक्की का अंदाजा था:  झुनझुनवाला ने बताया था कि जब सेंसेक्स 150 अंक पर था तो मुझे इतना आइडिया नहीं था। हालांकि, 2002-2003 में मुझे लगा कि भारत में ऐसी समृद्धि दिखाई देगी जिसकी हम कल्पना नहीं कर सकते। इस वजह से बाजार रिकॉर्ड स्तर तक जाएगा।

खाने के शौकीन: इंटरव्यू में झुनझुनवाला ने अपने शौक और रोजाना के दिनचर्या का भी जिक्र किया था। उन्होंने कहा था कि मुझे पढ़ने में मज़ा आता है, मुझे खाने के कार्यक्रम देखने में अच्छा लगता है। स्ट्रीट फूड, सड़कों पर चाइनीज खाना बहुत पसंद है। झुनझुनवाला ने बताया था कि मुझे डोसा भी बहुत पसंद है। बाहर में पाव भाजी खाने पर स्वाद नहीं आता है, इसलिए घर पर बना लेता हूं। मैं आराम करना पसंद करता हूं, मैं ज्यादा शारीरिक गतिविधि नहीं करता हूं। 

ये पढ़ें-नए निवेशकों के गुरु थे झुनझुनवाला, आखिरी वक्त में कितना बदला अपना पोर्टफोलियो, देखें

परोपकारी नहीं कहलाना: बिग बुल को दानवीर कहलाना पसंद नहीं था। इंटरव्यू में उन्होंने बताया था कि मैं खुद को दानवीर नहीं कहूंगा। हमें एक बात का एहसास होना चाहिए कि इस धन का दाता भगवान है, यह मत सोचो कि हमने इसे कमाया है।

RELATED ARTICLES

Most Popular