HomeShare Marketकैश संकट के बीच खाली हो रहा पाकिस्तान का खजाना, 3 साल...

कैश संकट के बीच खाली हो रहा पाकिस्तान का खजाना, 3 साल के निचले स्तर पर मुद्रा भंडार

नकदी संकट का सामने कर रहे पाकिस्तान का विदेशी मुद्रा भंडार बड़ी गिरावट के साथ 7.83 अरब डॉलर पर आ गया है। यह वर्ष 2019 के बाद पाकिस्तान में विदेशी मुद्रा का न्यूनतम स्तर है। पाकिस्तान के केंद्रीय बैंक की तरफ से जारी आंकड़ों से यह जानकारी मिली है। हालांकि, विश्लेषकों का कहना है कि पाकिस्तान का मौजूदा विदेशी मुद्रा भंडार एक महीने के आयात खर्चों के लिए काफी है।

क्या कहते हैं आंकड़े: स्टेट बैंक ऑफ पाकिस्तान (एसबीपी) के इन आंकड़ों से पता चलता है कि देश के विदेशी भंडार में साप्ताहिक आधार पर 55.5 करोड़ डॉलर यानी 6.6 फीसदी की गिरावट आई है। ऐसा इस महीने बढ़े हुए ऋण भुगतान और बाहरी वित्तपोषण की कमी के कारण हुआ है।

इस रिपोर्ट के मुताबिक विदेशी मुद्रा भंडार लगभग तीन वर्षों में अपने सबसे निचले स्तर पर गिरकर 7.83 अरब डॉलर पर आ गया है। यह अक्टूबर 2019 के बाद का सबसे निचला स्तर है। एक सप्ताह पहले पांच अगस्त को पाकिस्तान का विदेशी मुद्रा भंडार 8.385 अरब डॉलर था।

भारत का क्या हाल: 5 अगस्त को समाप्त सप्ताह के दौरान भारत का विदेशी मुद्रा भंडार घट कर 572.978 अरब डॉलर पर पहुंच गया। वहीं, 29 जुलाई को समाप्त सप्ताह के दौरान विदेशी मुद्रा भंडार 2.4 अरब डॉलर बढ़ कर 573.875 अरब डॉलर पर आ गया था।  

RELATED ARTICLES

Most Popular