HomeShare Marketएलन मस्क नहीं कर पाएंगे ट्विटर पर कब्जा? माइक्रो ब्लागिंग साइट ने...

एलन मस्क नहीं कर पाएंगे ट्विटर पर कब्जा? माइक्रो ब्लागिंग साइट ने उतारा ‘पॉइजन पिल’ का हथियार 

Elon musk vs Twitter: स्पेसएक्स के संस्थापक और टेस्ला के सीईओ एलन मस्क (Elon musk) इन दिनों ट्विटर (Twitter) को खरीदने को लेकर चर्चा में हैं। इस बीच ट्विटर और एलन मस्क में कोल्ड वाॅर भी शुरू हो गया है। जहां एक तरफ मस्क ट्विटर पर कब्जा करने के लिए जी तोड़ कोशिश कर रहे हैं, वहीं दूसरी तरफ ट्विटर का बोर्ड उन्हें रोकने के लिए अपने अंतिम विकल्प तक आ गया है। एलन मस्क को ट्विटर पर जबरन टेकओवर से रोकने के लिए ट्विटर के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर ने एक नया प्लान बनाया है। ट्विटर ने कंपनी को बचाने के लिए ‘पॉइजन पिल’ (Poison pill) का तरीका अपनाया है। 

दरअसल, ट्विटर के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स ने Poison pill नाम की एक सीमित समय वाले शेयरहोल्डर राइट्स प्लान को अपनाया है। Poison pill स्ट्रेटेजी के तहत एलन मस्क के लिए ट्विटर को टेकओवर करना मुश्किल हो सकता है। 

कैसे काम करेगा ‘पॉइजन पिल’ 
पॉइजन पिल’ एक सीमित अवधि की शेयरधारक अधिकार योजना है जो किसी को कंपनी में 15 प्रतिशत से अधिक की हिस्सेदारी खरीदने से रोकती है। इसमें कंपनी कुछ छूट के साथ दूसरों को कंपनी के अतिरिक्त शेयर खरीदने की अनुमति दे देती है। इससे टेकओवर करने की कोशिश करनेवाले के शेयरों की कीमत कम हो जाती है और टेकओवर करना मुश्किल हो जाता है। इतना ही नहीं कंपनी का टेकओवर भी करना काफी महंगा हो जाता है। यानी कीमत और ज्यादा बढ़ जाती है। 

संबंधित खबरें

यह भी पढ़ें- राकेश झुनझुनवाला ने इस कंपनी पर लगाया बड़ा दांव! खरीदे 44 लाख नए शेयर, 69 रुपये का है एक स्टॉक

एलन मस्क के पास 9% शेयर 
शेयरधारकों का ये राइट्स प्लान तभी लागू हो जाएगा जब कोई व्यक्ति, ग्रुप या संस्था ट्विटर के आउटस्टैंडिंग कॉमन स्टॉक्स के 15% शेयर खरीदने की कोशिश करेगा। अभी एलन मस्क के पास 9% शेयर हैं। बता दें कि एलन मस्क ने पहले ही ये साफ कर दिया है कि वो कंपनी के लिए इससे ऊंची कीमत पर बात नहीं करेंगे। इसके बाद बोर्ड ने ‘पॉइजन पिल’ का तरीक़ा अपना लिया है।

क्या कहना है ट्विटर का?
ट्विटर ने शुक्रवार को एक अधिकारिक बयान जारी किया है। इसमें बोर्ड ने कहा कि राइट्स प्लान इस संभावना को कम करेगा कि कोई भी संस्था, व्यक्ति या समूह सभी शेयरधारकों को उचित नियंत्रण प्रीमियम का भुगतान किए बिना ओपन मार्केट से कंपनी पर कंट्रोल करने की कोशिश करे। ये प्लान 14 अप्रैल 2023 तक लागू रहेगा।

यह भी पढ़ें- अडानी ग्रुप का यह शेयर बना रॉकेट, निवेशकों के ₹1 लाख को बना दिया 78 लाख रुपये

बोर्ड में नहीं होंगे शामिल
बता दें कि हाल में यह खबर आई थी कि ट्विटर ने एलन मस्क के बोर्ड में शामिल होने को लेकर भी संकेत दिए थे जिसकी एलन मस्क ने सार्वजनिक तौर पर पुष्टि नहीं की थी। ट्विटर इंक ने पिछले सप्ताह एक नियामकीय सूचना में कहा कि कंपनी ने निदेशक मंडल में शामिल होने के लिए एलन मस्क के साथ सोमवार को एक समझौता किया गया है। हालांकि, बाद में एलन मस्क ने जवाब में लिखा, “मैं आने वाले महीनों में ट्विटर में बड़े सुधार करने के लिए पराग और ट्विटर के साथ काम करने को लेकर आशान्वित हूँ।” हालांकि, मस्क ने बोर्ड में शामिल होने के बात स्वीकार नहीं की थी।

RELATED ARTICLES

Most Popular