HomeShare Marketएक्सपोर्ट 15% से ज्यादा बढ़कर मई में 37.3 अरब डॉलर रहा, इंपोर्ट...

एक्सपोर्ट 15% से ज्यादा बढ़कर मई में 37.3 अरब डॉलर रहा, इंपोर्ट 56% बढ़ा

भारत ने इस साल मई में अब तक का सबसे ज्यादा मर्चेंडाइज एक्सपोर्ट (निर्यात) रिकॉर्ड किया है। मई 2022 में मर्चेंडाइज एक्सपोर्ट 15.46 फीसदी बढ़कर 37.3 अरब डॉलर रहा है। मई 2021 में भारत के मर्चेंडाइज एक्सपोर्ट की वैल्यू 32.30 अरब डॉलर थी। पेट्रोलियम प्रॉडक्ट्स, इलेक्ट्रॉनिक गुड्स और केमिकल्स जैसे सेगमेंट में दमदार परफॉर्मेंस के कारण एक्सपोर्ट शानदार रहा है। जहां एक्सपोर्ट में अच्छी ग्रोथ देखने को मिली है। वहीं, इंपोर्ट (आयात) में भी तेज उछाल आया है, जिससे इस साल मई में ट्रेड डेफिसिट बढ़कर 23.33 अरब डॉलर पहुंच गया है। मई 2021 में ट्रेड डेफिसिट (व्यापार घाटा) 6.53 अरब डॉलर था। 

29.18 अरब डॉलर रहा नॉन-पेट्रोलियम एक्सपोर्ट
मई 2022 के दौरान भारत का इंपोर्ट 56.14 फीसदी बढ़कर 60.62 बिलियन डॉलर रहा। कॉमर्स मिनिस्ट्री ने कहा है कि अप्रैल-मई 2022-23 में भारत का मर्चेंडाइज एक्सपोर्ट 77.08 अरब डॉलर रहा। पिछले साल की समान अवधि के मुकाबले इसमें 22.26 फीसदी की ग्रोथ दर्ज की गई है। अप्रैल-मई 2021-22 के दौरान भारत का मर्चेंडाइज एक्सपोर्ट 63.05 अरब डॉलर का था। मई 2022 में नॉन-पेट्रोलियम एक्सपोर्ट में 8.13 फीसदी की ग्रोथ दर्ज की गई और यह 29.18 अरब डॉलर रहा। जबकि मई 2021 में यह 26.99 अरब डॉलर था। 

यह भी पढ़ें- राकेश झुनझुनवाला ने घटाई इस कंपनी से हिस्सेदारी, निवेशकों को हुआ नुकसान

पेट्रोलियम और क्रूड ऑयल इंपोर्ट 91.6 फीसदी बढ़ा
इस साल मई में नॉन पेट्रोलियम इंपोर्ट 44.7 फीसदी बढ़कर 42.48 अरब डॉलर रहा, जो कि मई 2021 में 29.36 अरब डॉलर था। नॉन-ऑयल, नॉन GJ (गोल्ड, सिल्वर और प्रेशस मेटल्स) का इंपोर्ट 27.2 फीसदी बढ़कर 33.61 अरब डॉलर का रहा। यह मई 2021 में 26.42 अरब डॉलर का था। मई 2022 में पेट्रोलियम और क्रूड ऑयल इंपोर्ट 91.6 फीसदी बढ़कर 18.14 अरब डॉलर रहा है। वहीं, इस साल मई में कोल, कोक इंपोर्ट बढ़कर 5.33 अरब डॉलर का रहा, जो कि पिछले साल मई में 2 अरब डॉलर का था।

संबंधित खबरें

यह भी पढ़ें- रेस्टोरेंट बिल में सर्विस चार्ज की वसूली गलत, रोक के लिए सरकार ने बनाया प्लान
 

RELATED ARTICLES

Most Popular