HomeShare Marketअभी और बढ़ेंगे पेट्रोल-डीजल के दाम! धीरे-धीरे होगा कीमतों में इजाफा

अभी और बढ़ेंगे पेट्रोल-डीजल के दाम! धीरे-धीरे होगा कीमतों में इजाफा

Petrol-Diesel Price Today: उत्तर प्रदेश सहित पांच राज्यों के चुनाव परिणाम आ गए हैं। जिसके बाद से लगातार पेट्रोल और डीजल (Petrol-Diesel Price) की कीमतों में इजाफा देखने को मिल रहा है। 22 मार्च से अबतक पेट्रोल-डीजल की कीमतों में सातवीं बार इजाफा देखने को मिला है। लेकिन भविष्य में राहत की उम्मीद कर रहे लोगों के लिए बड़ा झटका है। सूत्रों के अनुसार तेल की कीमतों में इजाफा होता रहेगा। 

CNBC-TV 18 को सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार सरकार एक साथ कीमतों में इजाफा कर नागरिकों को बड़ा झटका देने से बच रही है। यही वजह है कि कीमतों में बढ़ोतरी धीरे-धीरे होगी। दीपावली से पहले केन्द्र सरकार की तरफ से पेट्रोल और डीजल की कीमतों में कटौती की गई थी। फिर बाद में राज्य सरकारों की तरफ से भी कीमतों को घटाया गया था। पांच राज्यों में चुनाव के दौरान पेट्रोल और डीजल की कीमतों में कोई बदलाव नहीं देखने को मिला था। लेकिन अब एक बार फिर से कीमतों में बढ़ोतरी हो रही है। 

यह भी पढ़ेंः 37% तक रिटर्न दे सकते हैं ये 5 नए शेयर, स्टॉक मार्केट में कुछ दिन पहले हुई है लिस्टिंग

संबंधित खबरें

दिल्ली में पेट्रोल ने लगाया ‘शतक’

पेट्रोल और डीजल के दाम में वृद्धि का सिलसिला मंगलवार को भी जारी रहा। पेट्रोल में 80 पैसे प्रति लीटर की और वृद्धि के साथ ज्यादातर राज्यों की राजधानी में यह 100 रुपये लीटर को पार कर गया। वहीं डीजल के दाम 70 पैसे लीटर बढ़ाये गये हैं। सार्वजनिक क्षेत्र की पेट्रोलियम विपणन कंपनियों की मूल्य अधिसूचना के मुताबिक, राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में पेट्रोल की कीमत 99.41 रुपये प्रति लीटर से बढ़कर अब 100.21 रुपये प्रति लीटर और डीजल की कीमत 90.77 रुपये प्रति लीटर से बढ़कर 91.47 रुपये प्रति लीटर हो गई है। पेट्रोल और डीजल की कीमतें देशभर बढ़ी हैं, लेकिन इनके दाम स्थानीय कर के आधार पर अलग-अलग राज्यों में भिन्न-भिन्न हैं।
        
मुंबई, चेन्नई और कोलकाता में पेट्रोल के दाम पहले ही 100 रुपये प्रति लीटर को पार कर गये हैं। ज्यादातर राज्यों की राजधानी में भी पेट्रोल ‘शतक’ के आंकड़ें को पार कर चुका है। इससे पहले, राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में पेट्रोल का दाम सात जुलाई, 2021 को 100 रुपये लीटर को पार कर गया था और एक समय 110.04 रुपये के उच्चतम स्तर पर पहुंच गया था। तब चार नवंबर को नरेंद्र मोदी सरकार ने वाहन ईंधन पर उत्पाद शुल्क में कटौती की थी। 
      
पेट्रोल तथा डीजल की कीमतें रिकॉर्ड 137 दिन तक स्थिर रहने के बाद 22 मार्च को बढ़ाई गई थीं। तब से सातवीं बार कीमतें बढ़ायी गई हैं।इस वृद्धि के बाद मुंबई में पेट्रोल का दाम 115.04 रुपये लीटर जबकि चेन्नई में यह 105.94 रुपये तथा कोलकाता में 109.68 रुपये लीटर पहुंच गया। वहीं डीजल की कीमत मुंबई में 99.25 रुपये लीटर, चेन्नई में 96 रुपये तथा कोलकाता में 94.62 रुपये लीटर पहुंच गयी है।
     
देश में ईंधन की कीमत सबसे ज्यादा राजस्थान के गंगानगर जिले में हैं। इस सीमावर्ती जिले में पेट्रोल का दाम 117.14 रुपये लीटर जबकि डीजल 99.96 रुपये प्रति लीटर पर पहुंच गया है। स्थानीय करों के अलावा ईंधन के दाम पर माल ढुलाई लागत का भी असर पड़ता है। कच्चे तेल की कीमत मंगलवार को 112 डॉलर प्रति बैरल के करीब रही।

(एजेंसी के इनपुट के साथ) 

RELATED ARTICLES

Most Popular