HomeShare Marketअडानी, टाटा और जिंदल ग्रुप की इस कंपनी के शेयर हो सकते...

अडानी, टाटा और जिंदल ग्रुप की इस कंपनी के शेयर हो सकते हैं MSCI इंडेक्स में शामिल, ये शेयर होंगे बाहर

MSCI India Index: एडलवाइस अल्टरनेटिव एंड क्वांटिटेटिव रिसर्च का मानना ​​है कि जिंदल स्टील एंड पावर, अडानी पावर और टाटा एलेक्सी को एमएससीआई इंडिया इंडेक्स (MSCI index) में शामिल किया जा सकता है। MSCI  इंडेक्स की रिव्यू की घोषणा 13 मई को होने की संभावना है और रि-बैलेंसिंग 31 मई को हो सकता है। आज एनएसई पर अडानी पावर के शेयर 5% ऊपर चढ़कर 272.05 रुपये पर बंद हुए हैं। दूसरी ओर, JSPL और Tata Elxsi के शेयरों में आज गिरावट रही। JSPL के शेयर 2% से अधिक टूटकर 526 रुपये और टाटा एलेक्सी के शेयर लगभग 4% तक टूटकर 8,024.95 रुपये पर बंद हुए हैं। 

एडलवाइस ने क्या कहा? 
एडलवाइस ने एक नोट में कहा है, “अर्ध-वार्षिक समीक्षाओं का विश्लेषण करने के हमारे पिछले अनुभव के अनुसार, हम मानते हैं कि MSCI मई 22 SAIR मार्केट कैप कट-ऑफ तिथि पिछले सप्ताह में पहले ही चुनी जा चुकी है।” एडलवाइस का यह भी मानना ​​है कि एचडीएफसी एएमसी (HDFC AMC) को इंडेक्स से बाहर रखा जा सकता है जबकि इंद्रप्रस्थ गैस (Indraprastha Gas ) इंडेक्स में बने रहने में कामयाब हो सकती है 
एडलवाइस अल्टरनेटिव ने कहा, “हमारे तिमाही शेयरधारिता एनालिस्ट के अनुसार, हमारा मानना ​​है कि IGL में FIF या विदेशी समावेशन कारक बढ़ने की संभावना है और यदि ऐसा होता है तो काउंटर को बाहर होने से बचाया जा सकता है। अगर एमएससीआई एफआईएफ की यथास्थिति बनाए रखता है, तो आईजीएल 85 मिलियन अमरीकी डालर का आउटफ्लो देख सकता है।” 

MSCI इंडिया इंडेक्स का मतलब क्या है?
बता दें कि MSCI इंडिया इंडेक्स को भारतीय बाजार के लार्ज और मिड कैप सेगमेंट के प्रदर्शन को मापने के लिए डिज़ाइन किया गया है । MSCI इंडेक्स में शामिल होने के योग्य होने के लिए एक सुरक्षा के विदेशी समावेशन कारक (FIF) को एक निश्चित सीमा तक पहुंचना चाहिए। इंडेक्स भारतीय इक्विटी बाजार की करीब 85 फीसदी पर नजर रखता है। 

RELATED ARTICLES

Most Popular