HomeShare Marketअडानी ग्रुप की इस कंपनी को हुआ 1000 करोड़ से ज्यादा का...

अडानी ग्रुप की इस कंपनी को हुआ 1000 करोड़ से ज्यादा का मुनाफा, अब 250% का डिविडेंड देने की तैयारी

अडानी ग्रुप की कंपनी अडानी पोर्ट्स एंड स्पेशल इकनॉमिक जोन (SEZ) अपने निवेशकों को तोहफा देने की तैयारी में है। कंपनी के बोर्ड ने वित्त वर्ष 2021-22 के लिए 2 रुपये फेस वैल्यू वाले हर शेयर पर 250 पर्सेंट (हर शेयर पर 5 रुपये) का डिविडेंड देना रिकमंड किया है। अडानी पोर्ट्स के शेयर बुधवार को बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज पर फिलहाल 5 फीसदी की गिरावट के साथ 714.25 रुपये के स्तर पर ट्रेड कर रहे हैं। 

1024 करोड़ रुपये का हुआ है तिमाही मुनाफा
अडानी पोर्ट्स को जनवरी-मार्च 2022 तिमाही में 1024 करोड़ रुपये का नेट प्रॉफिट हुआ है। यह पिछले साल की समान अवधि के मुकाबले 21 फीसदी कम है। कंपनी को पिछले साल की मार्च तिमाही में 1,321 करोड़ रुपये का प्रॉफिट हुआ था। हालांकि, कंपनी का रेवेन्यू 6 फीसदी बढ़कर 3,845 करोड़ रुपये हो गया है। जबकि इबिट्डा करीब 19 फीसदी की गिरावट के साथ 1,858.8 करोड़ रुपये हो गया है। कंपनी का कहना है कि उसने 312MMT का टोटल कार्गो वॉल्यूम हासिल किया है, सालाना आधार पर इसमें 26 फीसदी की ग्रोथ दर्ज की गई है। 

यह भी पढ़ें- विराट कोहली के निवेश वाली कंपनी का आ रहा IPO, दांव लगाने का मौका

संबंधित खबरें

शुरुआत से अब तक कंपनी के शेयरों ने दिया 286% का रिटर्न
अडानी पोर्ट्स एंड स्पेशल इकनॉमिक जोन के शेयरों ने इस साल अब तक 3 फीसदी का निगेटिव रिटर्न निवेशकों को दिया है। वहीं, पिछले एक साल में कंपनी के शेयरों ने 6.5 फीसदी का निगेटिव रिटर्न दिया है। पिछले 5 साल के पीरियड में कंपनी के शेयरों ने 105 फीसदी से ज्यादा का रिटर्न इनवेस्टर्स को दिया है। 26 मई 2017 को बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज में अडानी पोर्ट्स के शेयर 346.95 रुपये के स्तर पर थे। 25 मई 2022 को कंपनी के शेयर 714.25 रुपये के स्तर पर ट्रेड कर रहे हैं। कंपनी के शेयरों ने शुरुआत से अब तक 286 फीसदी से अधिक रिटर्न दिया है।

यह भी पढ़ें- मोदी सरकार के इस फैसले के बाद अडानी विल्मर और रुचि सोया के शेयरों में लग गया लोअर सर्किट

RELATED ARTICLES

Most Popular